CS ने मुख्य सचिवों के साथ की बैठक, कोविड वैक्सीन की पूर्व तैयारियों का लिया जायजा

मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने कहा कि राजस्थान में 57000 वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं. जयपुर, उदयपुर और जोधपुर में सप्लाई चैन की व्यवस्था है.

CS ने मुख्य सचिवों के साथ की बैठक, कोविड वैक्सीन की पूर्व तैयारियों का लिया जायजा
केंद्रीय कैबिनेट सचिव हैं राजीव गौबा. (फाइल फोटो)

जयपुर: कोरोना की वैक्सीन जनवरी से लगाने की केंद्र सरकार की पूरी तैयारी है. इसके तहत सोमवार को केंद्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राज्यों के मुख्य सचिवों से उनकी पूर्व तैयारियों के बारे में फीडबैक लिया. इसमें मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने उन्हें राजस्थान की पूर्व तैयारियों के बारे में पूरी जानकारी दी.

मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने कहा कि राजस्थान में 57000 वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं. जयपुर, उदयपुर और जोधपुर में सप्लाई चैन की व्यवस्था है. दो से 8 डिग्री तक तापमान वाली वैक्सीन का ज्यादातर इस्तेमाल होगा. जनवरी तक वैक्सीन आने की पूरी संभावना है. सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों और डॉक्टर्स को वैक्सीन दी जाएगी.

उन्होंने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य कर्मियों और चिकित्सकों की संख्या करीब 47000 है. इसके बाद फिर पुलिस कर्मियों और होमगार्ड को वैक्सीन लगाई जाएगी. इसके बाद 50 साल या इससे ऊपर के लोगों का टीकाकरण होगा. इसमें गंभीर रोग से ग्रसित लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी. 

राजस्थान के मुख्य सचिव निरंजन आर्य सुझाव दिया कि  वैक्सीन का तापमान मेंटेन रहे इसे सुनिश्चित किया जाए. कोल्ड स्टोरेज तक पहुंचाने और फिर टीकाकरण तक तापमान मेंटेन रखना सुनिश्चित किया जाए और इसे केंद्र खुद अपने स्तर पर देखे.

वहीं, करीब 5300 डीप फ्रीजर की राजस्थान को जल्द आपूर्ति हो सकती है. इसकी मांग राजस्थान ने पहले रखी थी. इधर, यूपी और पंजाब ने सुझाव दिया कि जो कोरोना से ठीक हो चुके हैं, उन्हें टीकाकरण कार्यक्रम से बाहर रखा जाए क्योंकि उनमें एंटीबॉडीज विकसित हो चुकी है. हालांकि इस बारे में केंद्र ने कोई निर्णय नहीं किया है.

इसके साथ ही वैक्सीन आपूर्ति की केंद्र नियमित मॉनिटरिंग करेगा. प्रदेश में वैक्सीन आपूर्ति और वितरण के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय कमेटी का गठन हो चुका है और उसकी बैठक भी हो चुकी है. वहीं, चिकित्सा सचिव की अध्यक्षता में टास्क फोर्स बनाई गई है जिसकी मंगलवार को बैठक होगी. उधर जिला स्तर पर जिला कलेक्टर इस हफ्ते जिला स्तरीय कमेटी की बैठक लेकर अपनी तैयारी सुनिश्चित करेंगे. इसी तरह ब्लॉक स्तर के अधिकारी ब्लॉक स्तरीय कमेटी की बैठक करके तैयारी सुनिश्चित करेंगे.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई बैठक में मुख्य सचिव के साथ चिकित्सा सचिव सिद्धार्थ महाजन, डीजीपी एमएलआर, गृह सचिव नारायण लाल मीणा, चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया मौजूद रहे.