close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पहलू खान मामले पर बोले CM गहलोत, जरूरत पड़ी तो दोबारा की जाएगी जांच

राजस्थान पुलिस ने कथित गोरक्षकों द्वारा 2017 में मारे गए पहलू खान के खिलाफ चार्जशीट दायर की है और इसमें उसपर गोतस्करी का आरोप लगाया है. 

पहलू खान मामले पर बोले CM गहलोत, जरूरत पड़ी तो दोबारा की जाएगी जांच
फाइल फोटो

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहलू खान की गोरक्षों द्वारा पिटाई मामले में पेश की गई चार्जशीट का ठीकरा प्रदेश की पूर्व सरकार (बीजेपी) पर फोड़ा है. साथ ही उन्होंने यह आश्वासन भी दिया है कि अगर मामले की जांच में गड़बड़ी पाई जाती है तो इसकी दोबारा जांच होगी. 

इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पहलू खान केस की जांच पूर्व की बीजेपी सरकार के शासन के दौरान की गई थी. इस मामले में चार्जशीट भी बीजेपी सरकार के दौरान पेश की गई थी. जिसके बाद उन्होंने कहा, अगर इस जांच में किसी भी तरह की खामी पाई जाती है, तो मामले की फिर से जांच होगी. 

यहां आपको बता दें, राजस्थान पुलिस ने कथित गोरक्षकों द्वारा 2017 में मारे गए पहलू खान के खिलाफ चार्जशीट दायर की है और इसमें उसपर गोतस्करी का आरोप लगाया है. पुलिस ने पहलू खान को राजस्थान बोवाइन एनिमल एक्ट 1995 की धारा 5,8 और 9 के तहत आरोपी बताया है. 

गौरतलब है कि अप्रैल 2017 में राजस्थान के अलवर में कथित गोरक्षों द्वारा पहलू खान की पीट पीट कर हत्या कर दी थी. उस वक्त भारतीय जनता पार्टी प्रदेश की सत्ता पर काबिज थी. 

बीजेपी नेता ने कहा- आदतन अपराधी था पहलू खान

पूर्व विधायक और बीजेपी नेता ज्ञानदेव अहूजा ने इस मामले पर कहा कि पहलू खान, उनके भाई और बेटे आदतन अपराधी थे, जो लगातार गो तस्करी में शामिल थे. उन्होंने कहा कि गो रक्षकों और हिंदू परिषद पर लगाए गए सभी आरोप गलत थे. स्थानीय लोगों द्वारा पहलू खान के वाहन को पकड़ा गया था. इसमें वो गायों की तस्करी करते थे. उसकी पुलिस हिरासत में मौत हो गई और स्थानीय लोगों ने उनकी पिटाई नहीं की थी. अब जब पहलू खान के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया गया है, तो कांग्रेस श्रेय ले रही है लेकिन कांग्रेस ने तब उनके परिवार को वित्तीय मदद दी थी.

ओवेसी ने राजस्थान के मुस्लिमों से की ये अपील

वहीं इस मामले में हैदराबाद के सांसद और एआईएमआईएम चीफ असद्दुदीन ओवैसी ने कहा, सत्ता में आते ही कांग्रेस बीजेपी के जैसी बन जाती है, राजस्थान के मुसलमानों को यह बात समझ लेनी चाहिए और कांग्रेस का विरोध करना चाहिए और अपनी पार्टी बनानी चाहिए. 70 साल बहुत होते हैं लेकिन अब बदल जाइए.