close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजनीति में सीपी जोशी का अनुभव सदन चलाने के काम आएगा: गुलाबचंद कटारिया

सीपी जोशी चार बार विधायक रहे हैं. 2008 में वह केवल एक वोट से विधानसभा चुनाव हार गए थे

राजनीति में सीपी जोशी का अनुभव सदन चलाने के काम आएगा: गुलाबचंद कटारिया
सीपी जोशी ने 2009 में लोकसभा चुनाव लड़ा और जीत हासिल की

जयपुर: कांग्रेस के दिग्गज नेता और नाथद्वारा से विधायक सी.पी. जोशी को बुधवार को राजस्थान विधानसभा का निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विधानसभा अध्यक्ष के रूप में गहलोत का नाम प्रस्तावित किया, जिसका समर्थन विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया ने किया.

इसके बाद, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, विपक्ष के उपनेता राजेंद्र राठौड़ और अन्य ने जोशी का नाम प्रस्तावित किया जिस पर पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और अन्य विपक्षी नेताओं ने सहमति जताई. सदन को गुरुवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया.

गहलोत ने जोशी को शुभकामना देते हुए कहा, 'आपका सदन से 38 सालों का वास्ता रहा है. सभी पार्टी ने आपके नाम पर सहमति दी है, इसलिए आप पर बड़ी जिम्मेदारी है'. कटारिया ने जोशी से कहा कि राजनीति में उनका अनुभव सदन चलाने के काम आएगा.

बता दें कि, जोशी चार बार विधायक रहे हैं. 2008 में वह केवल एक वोट से विधानसभा चुनाव हार गए थे. उन्होंने 2009 में लोकसभा चुनाव लड़ा और जीत हासिल की. उन्हें मनमोहन सिंह सरकार में पंचायती राज और ग्रामीण विकास के लिए कैबिनेट स्तर का रैंक दिया गया था.

(इनपुट-आईएएनएस)