close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: मुद्रक और प्रकाशक का नाम अंकित होना जरूरी, वरना EC कर सकती है कार्रवाई!

जिला निर्वाचन अधिकारी जगरूप सिंह यादव ने बताया की भारत चुनाव आयोग ने लोक सभा चुनाव को देखते हुए चुनावी पोस्टर, पैम्पलेट के छपवाने के संबंध में आदेश जारी किया है. 

जयपुर: मुद्रक और प्रकाशक का नाम अंकित होना जरूरी, वरना EC कर सकती है कार्रवाई!
नियमों का उल्लंघन करने वालों पर EC शिकंजा कस सकती है. (फाइल फोटो)

जयपुर: आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान मुद्रक व प्रकाशक के नाम के बिना चुनाव से संबंधित इश्तहार और पोस्टर इत्यादि छापना महंगा पड सकता है. चुनाव आयोग के नियमों के अनुसार प्रचार सामग्री तैयार करने वाले मुद्रक और प्रकाशक का नाम दर्ज होना जरूरी है. ऐसा न करने वालों पर चुनाव आयोग कड़ी कार्रवाई कर सकती है. निर्वाचन विभाग के सूत्रों के अनुसार, नियम का उल्लंधन करने वालों पर जुर्माने के साथ ही छह माह जेल की सजा हो सकती है. 

इस संबंध में जयपुर जिला निर्वाचन अधिकारी जगरूप सिंह यादव ने बताया की भारत चुनाव आयोग ने लोक सभा चुनाव को देखते हुए चुनावी पोस्टर, पैम्पलेट के छपवाने के संबंध में आदेश जारी किया हैं. जिसमें चुनावी पोस्टर और पैम्पलेट मुद्रित करने के बाद किसी भी व्यक्ति को मुद्रक और प्रकाशक का नाम व पता अंकित किए बिना इन्हें जारी करने की अनुमति नहीं होगी. इस दौरान ऐसे व्यक्तियों को अपने हस्ताक्षर सहित दो व्यक्तियों द्वारा सत्यापित लिखित घोषणा के दोहरी प्रति मुद्रक व प्रकाशक को देनी होगी. 


जयपुर जिला निर्वाचन अधिकारी जगरूप सिंह यादव

विज्ञापन की जानकारी करानी होगी उपलब्ध

उन्होंने यह भी बताया, ''दस्तावेजों के मुद्रित होने के उपरांत एक-एक प्रति राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी व संबंधित जिले के जिला मजिस्ट्रेट को भेजनी अनिवार्य होगी. इसके अलावा चुनाव के दौरान किसी भी राजनीतिक पार्टी या उम्मीदवार द्वारा प्रिंट मीडिया में दिए गए विज्ञापन की जानकारी भी उपलब्ध करानी होगी. इसके अलावा प्रकाशकों व मुद्रकों को अपना नाम व पता देना होगा.''

नियम का उल्लंघन करने वालो पर होगी कड़ी कार्रवाई

जिला निर्वाचन अधिकारी के जारी आदेश के अनुसार प्रकाशकों व मुद्रकों को चुनाव आयोग के दिशानिर्देशों का पूर्ण रूप से पालन करना होगा. नियम का उल्लंघन करने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी.