close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: नामांकन दाखिल करने पहुंची ज्योति खंडेलवाल ने आचार संहिता का किया उल्लंघन

राजस्थान की राजधानी जयपुर लोकसभा सीट भाजपा का गढ़ मानी जाती है. इस लोकसभा सीट से गुरुवार को कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति खंडेलवाल ने अपना नामांकन दाखिल किया.

राजस्थान: नामांकन दाखिल करने पहुंची ज्योति खंडेलवाल ने आचार संहिता का किया उल्लंघन

जयपुर: सात साल पहले मेयर रहते हुए नगर निगम में सीईओ हटवाने को लेकर चर्चा में रहीं ज्योति खंडेलवाल का सामना एक बार फिर तत्कालीन नगर निगम सीईओ और वर्तमान रिटर्निंग अधिकारी जयपुर जगरूप सिंह यादव से हुआ. लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू होने के दूसरे दिन जयपुर शहर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति खंडेलवाल ने नामांकन भरा. जिला कलेक्ट्रेट में नामांकन प्रक्रिया के दूसरे दिन ही आचार संहिता की धज्जियां उड़ गईं. भारी सुरक्षा व्यवस्था और एसडीएम, तहसीलदार और पुलिस के अफसर के बीच सेंध लगाते हुए करीब 50 से अधिक संख्या में कांग्रेसी नेता कलेक्ट्रेट में प्रवेश कर गए. 

राजस्थान की राजधानी जयपुर लोकसभा सीट भाजपा का गढ़ मानी जाती है. इस लोकसभा सीट से गुरुवार को कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति खंडेलवाल ने अपना नामांकन दाखिल किया. ज्योति खंडेलवाल के नामांकन से पहले गुटबाजी से जूझ रही राजस्थान कांग्रेस के दिग्गज नेताओं की मौजूदगी ने एकजुटता का मैसेज देने की कोशिश की. 48 साल बाद ये पहला मौका है, जब जयपुर से महिला प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं. दोपहर करीब दो बजे ज्योति खंडेलवाल जिला कलेक्ट्रेट पर जुलूस के साथ नामांकन भरने पहुंची लेकिन उनके आने से 30 मिनट पंहले ही कांग्रेसी नेता, विधायक और कार्यकर्ता कलेक्ट्री में घुस गए.

इधर जयपुर शहर सीट के प्रत्याशी को नामांकन भरने के लिए गेट नंबर 2 और मुख्य पोर्च से होते हुए रास्ता निर्धारित किया गया था, जहां दो एसडीएस जगत राजेश्वर, ओम प्रभा और दो तहसीलदार मुकेश मीणा और अभिषेक सिंह नियुक्त किए गए थे लेकिन इतने अधिकारियों के तैनात होने के बाद भी कांग्रेसी पीछे के रास्ते से कलेक्ट्रेट परिसर में घुस गए और नामांकन कक्ष में जा पहुंचे.

गत विधानभा चुनावों की बात करें तो कलेक्ट्रेट के गेट पर ही प्रत्याशी के साथ महज चार लोगों को प्रवेश दिया गया था. खंडेलवाल के नामांकन के समय 50 से अधिक नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे. इतनी भीड़ देखकर एक बार तो जिला कलेक्टर जगरुप सिंह यादव को भी गुस्सा आ गया. उन्होंने पुलिस अधिकारियों को लताड़ लगाते हुए कहा कि यह क्या तमाशा लगा रखा है. कार्यकर्ताओं से कहा कि कमरा तुरंत खाली करो. इसके बाद कई कार्यकर्ता तो खिसक गए, लेकिन नेता जमे रहे. अफसर उनको बाहर निकालने की हिम्मत नहीं जुटा सके.

जयपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में ज्योति खंडेलवाल ने नामांकन दाखिल किया. इससे पहले अजमेर रोड पर पैट्रोल पंप वाले बालाजी के नजदीक उनके प्रधान कार्यालय का उद्घाटन हुआ. इस मौके पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित कई बड़े नेता मौजूद थे. यहां से वे रोड शो करते हुए जिला कलेक्ट्रेट पहुंची. नामांकन दाखिल करते समय रिटर्निंग ऑफिसर के कक्ष में प्रत्याशी सहित 5 जने होने चाहिए. लेकिन खंडेलवाल के नामांकन के समय कमरा नेताओं और कार्यकर्ताओं से खचाखच भर गया. इस दौरान विधायक महेश जोशी, प्रताप सिंह खाचरियावास, गंगादेवी, अमीन कागजी और रफीक खान, महापौर विष्णु लाटा, पार्षद भगवत सिंह देवल और रामनिवास जोरवाल सहित कांग्रेस के कई पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद थे.