close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोटा: मुसलाधार बारिश ने बढ़ाई लोगों की मुश्किलें, कई जगहों से टूटा संपर्क

मांगरोल से रामगढ़ के मध्य स्थित पार्वती नदी भी अपने उफान पर है, जिसके कारण पिछले पांच दिनों से पुलिया पर पांच फिट से अधिक पानी चल रहा है.

कोटा: मुसलाधार बारिश ने बढ़ाई लोगों की मुश्किलें, कई जगहों से टूटा संपर्क
पुलिया पर लोग जान जोखिम में डालकर नदी पार कर रहे हैं.

राम मेहता/बारां: राजस्थान के बारां जिलें और मध्यप्रदेश में हो रही बरसात के कारण पार्वती, परवन नदियों अपने उफान पर हैं. वहीं इन नदियों के उफान पर आने से जिले के कई मार्ग बाधित हो गए हैं. साथ ही बाधित मार्गों पर यातायात बंद हो गई है और गांवों का जिला और उपखण्ड मुख्यालयों से संपर्क कट गया है. 

वहीं मांगरोल से रामगढ़ के मध्य स्थित पार्वती नदी भी अपने उफान पर है, जिसके कारण पिछले पांच दिनों से पुलिया पर पांच फिट से अधिक पानी चल रहा है. वहीं इधर छबड़ा क्षेत्र में पार्वती नदी में उफान चलने के कारण मध्यप्रदेश को जोड़ने रास्तें बंद है. नदी में उफान के कारण मध्यप्रदेश के फतेहपुर को जोड़ने वाली पुलिया पर पानी आ गया है जिसके कारण रास्ता बंद है.

साथ ही बारां से नाहरगढ़ के रास्तें में पड़ने वाला पार्वती नदी की देंगनी की पुलिया पर पानी होने के कारण रास्ता बंद है. छीपाबडौद से इकलेरा रोड़ को जोड़ने वाली परवन नदी की पुलिया पर पानी होने के कारण रास्ता बंद है़. जबकि अटरू के पास पार्वती नदी के दूसरें तरफ बनें एक दर्जन गांव का संपर्क कटा हुआ है और पुलिया पर लोग जान जोखिम में डालकर नदी पार कर रहे हैं.

वहीं प्रदेश के पाली के रायपुर में पिछले दो दिनों से हो रही मुसलाधार बारिश से क्षेत्र की दो प्रमुख नदिया लीलड़ी व सुकड़ी पूरे वेग से साथ उफान पर चल रही है. सोमवार दोपहर से एक दर्जन गांवों से सम्पर्क कटा हुआ है. लोगों का आना-जाना बंद हो गया. दोनों नदियों के बीच सैकड़ो लोग फंसे हुए हैं वो लोग नदी में पानी कम होने का इंतजार कर रहे है. 

उधर, नदियों में तेज आवाक से उधर रायपुर का लूनी बांध भी देर रात लबालब हो गया है. बांध पर दो इंच की चादर चल रही है इस बार तीन साल बाद रायपुर का बांध वापस भरा है जिससे किसानो व आमजन में खुसी की लहर है.