पंचायतीराज चुनाव 2020 के लिए निकाली गई लॉटरी, जानिए किसके हिस्से में कितनी आईं सीटें?

एससी की सात सीटों में से तीन महिलाओं के लिए आई हैं और चार पुरुषों के लिए. ओबीसी की सात सीट में तीन महिला के लिए तथा चार पुरुषों के लिए आई हैं. 

पंचायतीराज चुनाव 2020 के लिए निकाली गई लॉटरी, जानिए किसके हिस्से में कितनी आईं सीटें?
एससी की सात सीटों में से तीन महिलाओं के लिए आई हैं और चार पुरुषों के लिए.

जुगल, अलवर: पंचायतीराज चुनाव 2020 के लिए पंच और सरपंच आरक्षण की प्रक्रिया के तहत लॉटरी निकाली गई. लॉटरी प्रक्रिया को लेकर जनप्रतिनिधियों और आमजन में खासा उत्साह देखने को नजर आया. प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद लोगों में खुशी और गम का नजारा देखने को नजर आया.

किशनगढ़बास पंचायत समिति सभागार में उप जिला कलेक्टर छोटू लाल शर्मा की मौजूदगी में पंचायतराज संस्थाओं के आम चुनाव 2020 सरपंच और वार्ड पंच पद हेतु अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग और महिलाओं आदि की श्रेणियों की लॉटरी द्वारा आरक्षण निर्धारित करने का कार्य पूर्ण किया गया.

उपखंड अधिकारी छोटू लाल शर्मा ने बताया कि पंचायत समिति किशनगढ़बास के सभागार में आरक्षित सीटों के लिए लॉटरी कार्यक्रम आयोजित किया गया. नियमानुसार सभी के समक्ष टोकन निकलवाकर सीटें आरक्षित की गईं. 7 सीट एससी के लिए और 7 सीट ओबीसी के लिए एवं शेष 23 सीटें सामान्य वर्ग के लिए हैं. कुल 37 सीटों पर सरपंच पद के उम्मीदवारों की लॉटरी निकाली गई है. 

एससी की सात सीटों में से तीन महिलाओं के लिए आई हैं और चार पुरुषों के लिए. ओबीसी की सात सीट में तीन महिला के लिए तथा चार पुरुषों के लिए आई हैं. इसी तरह सामान्य वर्ग की 23 सीटों में 12 सीटों पर महिला तथा 11 पर पुरुष आरक्षित रहे हैं. इसी तरह वार्ड पंचों के पदों पर सीटें आरक्षित की गई हैं. 

सरपंच पद की लॉटरी में जनप्रतिनिधि और आमजन में खासा उत्साह देखा गया. लॉटरी निकलने के बाद कोई खुश नजर दिखा तो किसी का गणित बिगड़ने पर वह मायूस दिखा.