राजस्थान: शहरों की बदलेगी सूरत, राज्य सरकार ने जारी किया बजट

राज्य सरकार ने शहरी विकास और निकायों के लिए वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में 2 अरब 32 करोड़ 36 लाख 44 हजार रुपए का बजट जारी किया गया है.

राजस्थान: शहरों की बदलेगी सूरत, राज्य सरकार ने जारी किया बजट
शहरी विकास, नगर पालिकाओं व परिषदों को बजट राशि आवंटित की गई. (फाइल फोटो)

विष्णु प्रकाश शर्मा, जयपुर: राज्य सरकार ने शहरी विकास और निकायों के लिए वित्तीय वर्ष का बजट जारी कर दिया. उन्हें पहली तिमाही में 2 अरब 32 करोड़ 36 लाख 44 हजार रुपए का बजट जारी किया गया है. यह राशि शहरी विकास, नगर पालिकाओं व नगर परिषदों को सहायता और विशेष अनुदान के रूप में दी गई है.

वित्त विभाग ने राशि का हस्तांतरण नगर पालिकाओं व नगर परिषदों के निजी निक्षेप खातों में करने के आदेश जारी किया है. जिससे शहरी निकायों को राहत मिली है. वित्त विभाग ने एक आदेश जारी कर इस वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही अप्रैल, मई और जून महीने के लिए बजट जारी किया है.

विभाग ने कोषाधिकारियों को निर्देश दिया है कि हस्तांतरित किए जाने वाले 2 अरब 32 करोड़ 36 लाख 44 हजार रुपए में से अप्रैल में 77 करोड़ 45 लाख 48 हजार, मई महीने में 77 करोड़ 45 लाख 48 हजार, जून में  77 करोड़ 45 लाख 48 हजार रुपए जारी किया जाए. यह राशि महीने के अंतिम कार्य दिवस को खाते में ट्रांसफर की जाए. 

वित्त विभाग ने कहा है कि संबंधित निकाय निर्धारित मापदंड योजना के दिशा निर्देशों के अनुसार ही निकालें. अन्य किसी दूसरे प्रयोजन के लिए राशि नहीं निकाली जा सकेगी. आचार संहिता के दौरान राशि निकालने के लिए चुनाव विभाग से मंजूरी ली जाए. 

चुंगी राशि का पुनर्भरण अनुदान भी 
वित्त विभाग ने एक अन्य आदेश जारी कर नागर पालिकाओं व नगर परिषदों को राहत दी है. परिषदों व पालिकाओं को तीन महीने अप्रैल 2019 से जून 2019 तक के लिए चुंगी की राशि के पुनर्भरण के लिए अनुदान दिया है. वित्त विभाग ने तीन महीनों के लए 2 करोड़ तीस लाख 33 हजार रुपए की राशि जारी की है. इसके बाद स्थानीय निकाय की तरफ से शहरी निकायों को सहमति आदेश जारी किए गए.