close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सचिन पायलट ने राजस्थान में संगठनात्मक बदलाव के दिए संकेत, कहा...

बाल सरंक्षण आयोग, जिला जेल कमेटी सहित अन्य पदों पर राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर विवाद की खबरों के सवाल पर पायलट ने कहा कि सरकार में सभी फैसले सामूहिक होते हैं.

सचिन पायलट ने राजस्थान में संगठनात्मक बदलाव के दिए संकेत, कहा...
फाइल फोटो

जयपुर: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट 14 दिन बाद जयपुर लौट आए हैं. वह 11 जून को अपने पिता राजेश पायलट की पुण्यतिथि के दिन जयपुर से गए थे. पिछले 14 दिन तक में वह अधिकांश समय विदेश में ही रहे. जयपुर लौटने के बाद सचिन पायलट सोमवार को पीसीसी भी आए और वहां पर ही मीडिया से विभिन्न मुद्दों पर बातचीत की. 

कर्नाटक, यूपी में संगठनात्मक बदलाव की तर्ज पर राजस्थान में बदलाव करने के सवाल पर पायलट ने कहा कि बदलाव एक निरंतर प्रक्रिया है और जिन लोगों ने सक्रियता से काम किया है, उनको इनाम भी मिलना चाहिए. बाल सरंक्षण आयोग, जिला जेल कमेटी सहित अन्य पदों पर राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर विवाद की खबरों के सवाल पर पायलट ने कहा कि सरकार में सभी फैसले सामूहिक होते हैं. उन्होंने कहा कि कहीं पर किसी तरह का विवाद नहीं है. 

27 जून से होने वाले विधानसभा के बजट सत्र को लेकर सचिन पायलट ने कहा कि सरकार ने इस सत्र के लिए पूरी तैयारी है. हम विपक्ष से भी आह्वान करते हैं कि जनहित से जुड़े मुद्दे सदन में उठाए और सार्थक चर्चा करें. हम सभी सवालों का जवाब देने को तैयार है.

पायलट से जब यह सवाल किया गया कि इन दिनों सरकार के मंत्री ही ब्यूरोकेट्स पर सवाल उठा रहे हैं. कहीं कहीं तो मंत्री और ब्यूरोकेट्स में तनातनी भी है, तो पायलट ने कहा कि अगर कहीं पर ऐसी कोई शिकायत आई, तो मुझे उम्मीद है कि सरकार इस बात को गंभीरता से लेगी.

इस बीच कांग्रेस के कई नेताओं और विधायकों ने सचिन पायलट से पीसीसी और उनके निवास पर चर्चा की. राजनीतिक नियुक्ति के लिए आवेदन भी किए. इस बीच देखना यह है कि प्रदेश कांग्रेस संगठन में आमूलचूल बदलाव आखिर कब होगा.