राजस्थान: कृषि कानूनों पर बुलाया जाएगा विशेष सत्र, गहलोत बोले-सरकार लाएगी संशोधन बिल

गहलोत ने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, हमारे 'अन्नादता' किसानों के पक्ष में मजबूती से खड़ी है और हमारी पार्टी किसान विरोधी कानूनों का विरोध करती रहेगी.'

राजस्थान: कृषि कानूनों पर बुलाया जाएगा विशेष सत्र, गहलोत बोले-सरकार लाएगी संशोधन बिल
राजस्थान के मुख्यमंत्री हैं अशोक गहलोत. (फाइल फोटो)

जयपुर: पंजाब के बाद, अब राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने भी कृषि कानूनों (Agricultural Law) पर चर्चा करने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने का फैसला किया है. मंगलवार को गहलोत ने एक कैबिनेट बैठक बुलाई और घोषणा की कि सरकार 'किसानों के हित' के संरक्षण के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाएगी.

उन्होंने कैबिनेट बैठक के बाद ट्वीट कर कहा, 'मंत्रिपरिषद ने फैसला किया है कि राज्य के किसानों के हितों की रक्षा करने के लिए विधान सभा का एक विशेष सत्र जल्द ही बुलाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा, सत्र में भारत सरकार द्वारा लागू किए गए कृषि कानूनों के प्रभाव पर चर्चा की जाएगी और राज्य के किसानों के हित में संशोधन बिल लाया जाएगा.'

गहलोत ने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, हमारे 'अन्नादता' किसानों के पक्ष में मजबूती से खड़ी है और हमारी पार्टी किसान विरोधी कानूनों का विरोध करती रहेगी.' सूत्रों ने कहा कि बैठक में सिविल कोर्ट द्वारा फसलों की खरीद में विवादों को निपटाने के अधिकारों को बहाल करने पर चर्चा की गई.

सूत्रों ने ये भी बताया कि राजस्थान में फसल खरीद से जुड़े विवादों के निपटारे की व्यवस्था मंडी समिति या सिविल कोर्ट के पास होनी चाहिए. देश में पहली बार मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार ने मंगलवार को सर्वसम्मति से तीन विधेयक पारित किए और बीजेपी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार द्वारा लाए गए केंद्र के कृषि कानूनों को औपचारिक रूप से खारिज कर दिया.

(इनपुट-आईएएनएस)