close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान विधानसभा में प्रश्नकाल को लेकर BJP का विरोध खत्म, विधायकों ने पूछे सवाल

आपको बता दें कि प्रश्नकाल में मूल प्रश्नकर्ता को ही पूरक प्रश्न करने का हक को लेकर अध्यक्ष ने जो व्यवस्था दी थी. उसके विरोध में बीजेपी ने सदन से वॉकआउट कर रखा था.

राजस्थान विधानसभा में प्रश्नकाल को लेकर BJP का विरोध खत्म, विधायकों ने पूछे सवाल
विरोध में बीजेपी ने सदन से वॉकआउट कर रखा था. (फाइल फोटो)

जयपुर: राजस्थान विधानसभा में 6 दिन से चल रहा बीजेपी का विरोध विधानसभा अध्यक्ष के नरम होने के बाद खत्म हुआ. इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने विपक्ष के सदस्यों से प्रश्नकाल में शामिल होने की अपील की. जिस पर विपक्ष ने प्रश्नकाल में शामिल होने पर सहमति जता दी. 

आपको बता दें कि प्रश्नकाल में मूल प्रश्नकर्ता को ही पूरक प्रश्न करने का हक को लेकर अध्यक्ष ने जो व्यवस्था दी थी. उसके विरोध में बीजेपी ने सदन से वॉकआउट कर रखा था.

गतिरोध टूटने के बाद विधानसभा में बीजेपी सदस्यों ने प्रश्न पूछे. इसके साथ ही नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया और उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने भी पूरक प्रश्न पूछे. 

लाइव टीवी देखें-:

प्रश्नकाल से पहले अध्यक्ष सीपी जोशी ने नियम 31 के पार्ट 2 का हवाला देते हुए विपक्ष से प्रश्नकाल में शामिल होने की अपील की. उन्होंने कहा कि मेरी भावना थी कि प्रश्नकाल में कम से कम 12 प्रश्न होने चाहिए. इसके साथ ही एक सदस्य को 5 मिनट मिले. अगर पूरक प्रश्न बढेंगे तो प्रश्नकाल में ज्यादा प्रश्नों के जवाब नहीं मिल पाएंगे. 

उन्होंने कहा कि मैंने यह व्यवस्था की है, लेकिन जरूरी नहीं है कि यह 100 प्रतिशत सही है. इसमें और भी सुधार की जरूरत होगी मिलकर सुधार करेंगे. 

वहीं, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि अध्यक्ष महोदय आपकी भावना गलत नहीं है, लेकिन यह समझने में दिक्कत हो रही है. हम चाहते हैं कि प्रश्न जब सदन की प्रॉपर्टी बन जाता है तो अन्य सदस्यों को भी पूरक प्रश्न की अनुमति होनी चाहिए. इसके लिए आप जितने चाहो उतनी अनुमति दे सकते हैं. 

इसके बाद अध्यक्ष ने नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया से कहा कि आप सदस्यों से कहे कि वो प्रश्नकाल में शामिल हो और प्रश्न पूछे. इसके बाद नेता प्रतिपक्ष ने सदस्यों से प्रश्न करने की अनुमति दी.

इस दौरान विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा कि अध्यक्ष की अपील के बाद नेता प्रतिपक्ष ने प्रश्नकाल में शामिल होने की अनुमति दी है.