सवाई माधोपुर में ट्रैक्टर ट्रॉली ने बाइक सवार को मारी टक्कर, मौत

हादसे के बाद धायल को सवाई माधोपुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन डॉक्टर मरीज को बचा नहीं पाए. डॉक्टरों के मुताबिक इलाज के दौरान मरीज ने दम तोड़ दिया. 

सवाई माधोपुर में ट्रैक्टर ट्रॉली ने बाइक सवार को मारी टक्कर, मौत
घटना के बाद पुलिस ने बजरी से भरे ट्रैक्टर को जब्त कर लिया.

सवाई माधोपुर: राजस्थान के मलारना डूंगर कस्बे के भूखा मोड़ पर अवैध बजरी से भरे ट्रैक्टर ट्रॉली ने बाइक सवार को टक्कर मार दी. इस भीषण हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई. बता दें कि, डिडवाडी गांव निवासी भरतलाल माली और उसकी पत्नी भागवती मलारना डूंगर कस्बे में एक बैठक में भाग लेकर अपने गांव लौट रहे थे. इसी दौरान बजरी के अनियंत्रित ट्रैक्टर ट्रॉली ने टक्कर मार दी.
 
बताया जा रहा है कि, हादसे के बाद धायल को सवाई माधोपुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन डॉक्टर मरीज को बचा नहीं पाए. डॉक्टरों के मुताबिक इलाज के दौरान मरीज ने दम तोड़ दिया. 

भरतलाल की मौत के बाद आक्रोशित भीड़ का पुलिस और प्रशासन के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा. गुस्साई भीड़ ने पहले तो पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई उसके बाद हाईवे पर जाम लगा दिया. 

वहीं, जब गुस्साई भीड़ के हाइवे पर जाम लगाने से पुलिस और प्रशासन के हाथ-पैर फूल गए. जाम की सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धर्मेंद्र यादव, डिप्टी कृष्णा सांवरिया, बाटोदा, सूरवाल सवाई माधोपुर से अतिरिक्त पुलिस बल के साथ मलारना डूंगर एसडीएम मनोज वर्मा, तहसीलदार किशन मुरारी मीना, नायब तहसीलदार अमितेश मीणा, थानाधिकारी जितेंद्र सिंह ने आक्रोशित भीड़ से समझाइश की. 

मगर, गुस्साई भीड़ लापरवाह पुलिसकर्मियों को निलंबित करने मृतक के परिजनों को 15 का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने साथ ही अवैध बजरी के वाहनों पर प्रभावी कार्यवाही करने की मांग पर अड़ गए. हालांकि, ढाई घंटे बाद एएसपी और एसडीएम ने गुस्साए लोगों से समझाइश कर जाम खुलवाया. 

उधर, जाम के चलते हाईवे पर दोनों तरफ 2 किलोमीटर तक लंबी वाहनों की कतार लग गई. घटना के बाद पुलिस ने बजरी से भरे ट्रैक्टर को जब्त कर लिया. हालांकि, चालक मौके से फरार हो गया.