राजस्‍थान गुर्जर आंदोलन: अगले 3 दिन के लिए 37 ट्रेनें रद्द, आपका है जयपुर जाने का प्‍लान तो करें चेक

गुर्जर आंदोलन का असर पश्चिम मध्य रेलवे की कुछ सेवाओं पर भी देखा गया. वहां कम से कम दो ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया है.

राजस्‍थान गुर्जर आंदोलन: अगले 3 दिन के लिए 37 ट्रेनें रद्द, आपका है जयपुर जाने का प्‍लान तो करें चेक
गुर्जर आरक्षण आंदोलन की आग अजमेर तक पहुंच गई है. एएनआई

जयपुर: राजस्‍थान में गुर्जरों का आंदोलन तीसरे दिन भी जारी है. राज्‍य में जगह जगह गुर्जर समुदाय के लोग 5 फीसदी आरक्षण के लिए आंदोलन कर रहे हैं. कई जगह आगजनी की घटनाएं भी हुई हैं. सवाई माधोपुर में तो गुर्जर समुदाय के लोग पटरियों पर बैठे हैं. इस कारण जयपुर के रास्‍ते आने जाने वाली ट्रेनों पर बड़ा असर पड़ रहा है. अगले 3 दिन के लिए 37ट्रेन रद्द करने की घोषणा हो चुकी है. सि‍र्फ रवि‍वार 10 फरवरी को 18 ट्रेनें रद्द हुई हैं. 13 के रास्‍ते बदले गए.

11 फरवरी को 10 ट्रेनें रद्द रहेंगी. वहीं 12 फरवरी को 12 ट्रेनों को रद्द करने की घोषणा उत्‍तर रेलवे ने की है. 13 फरवरी को सबसे ज्‍यादा 15 ट्रेनें रद्द रहेंगी. जाहिर है ऐसे में जयपुर की ओर जाने वाले या वहां से आने वालों को भारी दिक्‍कतों का सामना करना पड़ा रहा है.

राजस्थान में गुर्जरों के आरक्षण आंदोलन का असर रविवार को भी रेल सेवाओं पर भी पड़ा. इसके चलते कम से कम दो ट्रेनों को रद्द किया गया और नौ ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया है.

उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि आंदोलन के कारण उदयपुर से हजरत निजामुद्दीन और हजरत निजामुद्दीन से उदयपुर के बीच चलने वाली रेलगाड़ी को रद्द कर दिया गया है. वहीं इसी खंड में सात ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया है और दो ट्रेनों को आंशिक रूप से रद्द किया गया है.

गुर्जर आंदोलन का असर पश्चिम मध्य रेलवे की कुछ सेवाओं पर भी देखा गया. वहां कम से कम दो ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया है. उल्लेखनीय है कि गुर्जर पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर शुक्रवार शाम से सवाईमाधोपुर के मलारना डूंगर में रेल पटरी पर बैठे हैं. उत्तर—पश्चिम रेलवे ने शनिवार को भी तीन सवारी गाडि़यों को रद्द कर दिया और एक सवारी गाड़ी के मार्ग में परिवर्तन किया था.