close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

2022 के लिए अखिलेश ने कसी कमर, BJP को चित्त करने के लिए बनाई ये रणनीति

पार्टी के नेता मानते हैं कि इस वक्त यूपी में बीजेपी के मुकाबला सिर्फ समाजवादी पार्टी ही कर सकती है.

2022 के लिए अखिलेश ने कसी कमर, BJP को चित्त करने के लिए बनाई ये रणनीति
समाजवादी पार्टी ने महापुरुषों के जयंती समारोह को जिले स्तर पर मनाने का फैसला किया है.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में 11 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में बीजेपी ने बड़ी जीत दर्ज की. लेकिन, इसे समाजवादी पार्टी के लिए संजीवनी माना जा रहा है. दरअसल, प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में से 3 सीटों पर समाजावादी पार्टी ने जीत दर्ज की. वहीं, 5 सीटों पर सपा के प्रत्याशी दूसरे नंबर पर रहे थे.

उपचुनाव के नतीजों से समाजवादी पार्टी का उत्साह चरम पर है. अखिलेश यादव मानते हैं कि अब यूपी में बीजेपी को केवल समाजवादी पार्टी ही रोक सकती है. लिहाजा इसके लिए बड़ी रणनीति तैयार की जा रही है. इसी रणनीति के तहत अब अखिलेश यादव राज्य के सभी जिलों का दौरा शुरु करेंगे. पार्टी अखिलेश यादव के जिलों के दौरों का कार्यक्रम तैयार कर रही है.

पार्टी के नेता मानते हैं कि इस वक्त यूपी में बीजेपी के मुकाबला सिर्फ समाजवादी पार्टी ही कर सकती है. लिहाजा संगठन को मजबूत करने की तैयारी चल रही है. पार्टी सूत्रों की मानें, तो जिले से लेकर ब्लॉक लेवल तक के पदाधिकारियों की घोषणा होने वाली है.अखिलेश यादव ने जिन संगठनों को भंग किया था, उन्हें दोबारा तैयार किया जा रहा है. बड़ी बात यह भी है कि इस बार मौका युवा और मेहनती कार्यकर्ताओं को दिया जायेगा. पार्टी मानती है कि इस विपरीत परिस्थितियों में भी जो कार्यकर्ता मजबूती और ईमानदारी से पार्टी के साथ खड़ा है, उसे मौका मिलना चाहिए.

इतना ही नहीं पार्टी युवा संगठनों के लिए साइकिल यात्रा का कार्यक्रम भी बना रही है. कार्यकर्ता साइकिल यात्रा के जरिये हर गांव और हर घर तक पहुंचेगे. पार्टी मानती है कि जनता के मुद्दों के साथ जुड़ने का फायदा उपचुनाव में मिला है. लिहाजा अब जनता के साथ जमीन पर उनके मुद्दों की लड़ाई लड़ने की तैयारी की जा रही है. खुद अखिलेश यादव जिलों का दौरा कर छोटे-छोटे कार्यक्रम कर जनता से सीधा संवाद करेंगे. प्रदेश में कानून-व्यवस्था, बेरोजगारी और गरीबी जैसे मुद्दों पर जनता से समर्थन की मांग भी करेंगे.

इसके साथ ही समाजवादी पार्टी ने महापुरुषों के जयंती समारोह को जिले स्तर पर मनाने का फैसला किया है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने बाकायदा पत्र जारी कर देश के पहले गृहमंत्री लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर हर जिले  में बड़े समारोह का आयोजन करने का निर्देश दिया है. पार्टी मानती है कि इससे उस समाज के लोग पार्टी से जुड़ेगे. बल्कि, जमीन पर पार्टी और संगठन भी मजबूत होगा. इसका फायदा समाजवादी पार्टी को आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव में मिलेगा.