close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अंधेरे में हो रही थी प्रतिबंधित पशुओं की तस्करी, सोनू बोल पड़ा- 'ये क्या कर रहे हो', तभी मार दी गोली

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में 23 वर्षीय सोनू उर्फ सोनपाल को प्रतिबंधित पशुओं के तस्करों को विरोध करने पर अपनी जान गंवानी पड़ी है.

अंधेरे में हो रही थी प्रतिबंधित पशुओं की तस्करी, सोनू बोल पड़ा- 'ये क्या कर रहे हो', तभी मार दी गोली
प्रतिबंधित पशुओं के तस्करों ने ली युवक की जान. प्रतीकात्मक तस्वीर

मोहम्मद तारीक, पीलीभीत: प्रतिबंधित पशुओं की तस्करी का विरोध करना एक युवक को महंगा पड़ गया. आरोप है कि तस्करों ने गोली मारकर युवक को मौत के घाट उतार दिया. पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है और जल्द खुलासे की बात कह रही है. घटना थाना बिलसंडा क्षेत्र के मोहनपुर गांव की है. 

23 वर्षीय सोनू उर्फ सोनपाल को प्रतिबंधित पशुओं के को विरोध करने पर अपनी जान गंवानी पड़ी है. बताया जा रहा है कि सोनू का घर सड़क किनारे हैं. घर के बाहर एक झोपड़ी है. देर रात परिवार के लोग घर के अंदर सो रहे थे, सोनू भी झोपडी में सौ रहा था. तभी सोनू को आहट सुनाई दी. वह उठकर देखा तो एक पिकअप गाड़ी में कुछ अज्ञात लोग प्रतिबंधित पशुओं सड़क से लाद रहे थे. सोनू ने विरोध किया तो आरोपियों ने गोली चला दी. एक गोली दीवार में जाकर लगी और दूसरी सोनू के पेट मे लगी.

लाइव टीवी देखें-:

चीख पुकार पर परिवार के लोग बाहर आये तो आरोपी फरार हो गये. आनन-फानन में सोनू को अस्पताल ले जाया गया, जहां से बरेली रेफर कर दिया गया. बरेली में इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई. परिवार की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ रिर्पोट दर्ज की है. 

मृतक की बहन रामगीता ने बताया कि गो तस्करों ने उसके भाई की जान ले ली. बीसलपुर के सीओ प्रवीण मलिक ने कहा कि पुलिस मामले में जांच कर रही है. वहीं परिवार का आरोप है कि पुलिस ने गौतस्करों को बचाने के उद्देश्य से एफआईआर में हेरफेर की है, क्योंकि जो घटना परिवार ने बताई पुलिस ने उसे तोड़मरोड़ कर दर्ज की है. इतना ही नहीं थाने के एक दारोगा ने प्रधान पति से बोल बोलकर तहरीर लिखवाई है. फिलहाल घटना के बाद से लोगों में काफी आक्रोष है.