close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीएचयू हिंसा : NHRC ने चीफ सेक्रेट्री, डीजीपी और वीसी को नोटिस जारी किया, यूपी सरकार ने दिए जांच के आदेश

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने (NHRC) ने BHU प्रशासन द्वारा छेड़खानी की शिकायत पर कथित तौर पर निष्क्रिय रहने की मीडिया रिपोर्ट का स्वतः संज्ञान लिया है. इसी के साथ NHRC ने यूपी पुलिस द्वारा छात्रों विशेष तौर पर छात्राओं के खिलाफ बल प्रयोग करने पर भी स्वत : संज्ञान लिया है. NHRC ने चीफ सेक्रेट्री, डीजीपी यूपी, और बीएचयू वीसी को नोटिस जारी कर मामले की डिटेल रिपोर्ट देने के कहा है. आयोग ने जवाब देने के लिए 4 हफ्तों का समय दिया है. 

बीएचयू हिंसा : NHRC ने चीफ सेक्रेट्री, डीजीपी और वीसी को नोटिस जारी किया, यूपी सरकार ने दिए जांच के आदेश
NHRC ने चीफ सेक्रेट्री, डीजीपी यूपी, और बीएचयू वीसी को नोटिस जारी कर मामले की डिटेल रिपोर्ट देने के कहा है. (फाइल फोटो - साभार पीटीआई)

नई दिल्ली : राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने (NHRC) ने BHU प्रशासन द्वारा छेड़खानी की शिकायत पर कथित तौर पर निष्क्रिय रहने की मीडिया रिपोर्ट का स्वतः संज्ञान लिया है. इसी के साथ NHRC ने यूपी पुलिस द्वारा छात्रों विशेष तौर पर छात्राओं के खिलाफ बल प्रयोग करने पर भी स्वत : संज्ञान लिया है. NHRC ने चीफ सेक्रेट्री, डीजीपी यूपी, और बीएचयू वीसी को नोटिस जारी कर मामले की डिटेल रिपोर्ट देने के कहा है. आयोग ने जवाब देने के लिए 4 हफ्तों का समय दिया है. 

बीएचयू वीसी ने हिंसा की घटना के जांच के आदेश दिए
इससे पहले मंगलवार को बीएचयू के कुलपति ने परिसर में हिंसा की घटना की जांच का आदेश दिया। उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश बी एस दीक्षित जांच दल का नेतृत्व करेंगे। बीएचयू के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी ने कहा कि अफवाहें फैलने के कारण प्रदर्शन हुआ और बाहरी लोग इसमें संलिप्त थे। विश्वविद्यालय में कथित लैंगिक पक्षपात पर बीएचयू के कुलपति ने कहा, 'क्या यह गलत है कि हम अपने लड़कों की तुलना में अपनी लड़कियों की सुरक्षा को लेकर ज्यादा चिंतित हैं.' 

यूपी सरकार ने दिए न्यायिक जांच के आदेश
उत्तर प्रदेश सरकार ने वाराणसी के काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में हुए घटनाक्रम की आज न्यायिक जांच के आदेश दिए. यह जानकारी प्रदेश के ऊर्जा मंत्री एवं राज्य सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने दी। शर्मा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद कहा, 'न्यायिक जांच के आदेश दे दिये गये हैं ।' उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन और ​कुलपति सहित विश्वविद्यालय प्रशासन से कहा गया है कि वे छात्रों से संवाद स्थापित करें ताकि बाहरी एवं असामाजिक तत्वों को कोई मौका ना मिलने पाए। शर्मा ने बताया कि विश्वविद्यालय परिसर में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की जाएगी और सीसीटीवी लगाये जाएंगे। मंत्री ने कहा कि इस बात की जांच की जाएगी कि किस तरह बाहर से लोग आए, पथराव किया, पेट्रोल बम फेंके।