बरेली में शुरू हुई कोरोना मेडिकल मोबाइल वैन, संक्रमण का पता लगाने के लिए डोर टू डोर पहुंच कर जांच करेगी

बरेली इस समय पूरी तरह से कोरोना मुक्त है और सुरक्षा के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन ने 23 अप्रैल गुरुवार को कोरोना मेडिकल मोबाइल वैन की शुरुआत की है. अब लोगों को अस्पताल के चक्कर नहीं काटने होंगे बल्कि स्वास्थ्यकर्मी वैन से घूम-घूम कर ऐसे पेशेवर लोगों के सैंपलों की जांच खुद करेंगे. 

 बरेली में शुरू हुई कोरोना मेडिकल मोबाइल वैन, संक्रमण का पता लगाने के लिए डोर टू डोर पहुंच कर जांच करेगी
कोरोना मेडिकल मोबाइल वैन

बरेली: जहां देश के हर हिस्से में कोरोना ने अपने पैर पसार लिए हैं वहीं बरेली इस समय पूरी तरह से कोरोना मुक्त है. बरेली में सुरक्षा के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन ने 23 अप्रैल गुरुवार को कोरोना मेडिकल मोबाइल वैन की शुरुआत की है. इससे दुकानदारों, पत्रकारों और ऐसे पेशे वाले लोगों के लिए आसानी हो गई है. अब इन लोगों को अस्पताल के चक्कर नहीं काटने होंगे बल्कि स्वास्थ्यकर्मी वैन से घूम-घूम कर ऐसे पेशेवर लोगों के सैंपलों की जांच खुद करेंगे. 

ये भी पढ़ें- बधाई हो ! आगरा में कोरोना संक्रमित महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया, Good News से डॉक्टर की आंखों में भी आ गए आंसू

बरेली की डेलापीर सब्जी मंडी बरेली मंडल की सबसे बड़ी सब्जी मंडी है जहां पर देश भर से सब्जियां आती हैं और रिटेल सब्जी विक्रेता यहां से सब्जी खरीदकर ले जाते हैं. ऐसे में देश भर से ट्रकों में सब्जी लेकर आ रहे किसी भी व्यक्ति में कोरोना संक्रमण के लक्षण हो सकते है और भीड़ वाली जगह पर वह ना जाने कितने लोगों को संक्रमित कर सकता है. इसीलिए अब स्वास्थ्य विभाग की टीम ने ऐसे लोगों का कोविड-19 टेस्ट कराने का संकल्प लिया है.

सीएमओ विनीत कुमार शुक्ला ने बताया की ये वैन सभी मेडिकल स्टोर, सब्जी व्यापारियों, किराना की दुकानों, डॉक्टर्स और पत्रकारो का पूल टेस्ट करेगी. उन्होंने बताया की पूल टेस्ट से एक साथ कई लोगों का टेस्ट हो सकेगा और जांच करने में आसानी होगी.

सीएमओ विनीत कुमार शुक्ला ने बताया कि बरेली इस वक्त कोरोना मुक्त है और अब प्रशासन ने सामुदायिक संक्रमण की पुष्टि के लिए कमर कस ली है. बरेली में देश भर से पलायन करके आये करीब 15 हजार मजदूरो का भी टेस्ट कराया जाएगा और उनके सैंपल लेकर उन्हें जांच के लिए IVRI बरेली भेजा जाएगा.

वहीं डीएम नीतीश कुमार का कहना है कि प्रशासन ने लोगों का पूल टेस्ट कराना शुरू किया है. सभी ग्राम पंचायत, नगर पालिका, नगर पंचायतों, वार्डों में कोरोना मेडिकल मोबाइल वैन जाकर लोगों का पूल सैंपल लेगी. इससे जो थोड़ा बहुत संदेह है वो भी खत्म हो जाएगा. इस बारे में पुलिस और प्रशासन ने मिलकर पूरी तैयारी की है.

Watch LIVE TV-