close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अब फैजाबाद के सांसद ने की घोषणा, 'अयोध्या में जल्द शुरू हो जाएगा राम मंदिर का निर्माण'

सी बीच फैजाबाद के सांसद लल्लू सिंह ने दावा किया है कि अयोध्या की विवादित भूमि पर राम मंदिर का निर्माण जल्द कराया जाएगा.

अब फैजाबाद के सांसद ने की घोषणा, 'अयोध्या में जल्द शुरू हो जाएगा राम मंदिर का निर्माण'
फाइल फोटो

अयोध्या : लोकसभा चुनावों से पहले राम मंदिर निर्माण का मुद्दा उठने के बाद देश की सियासत एक बार फिर से गर्मा गई है. राम मंदिर के निर्माण की खबरों के बीच प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ दिवाली मनाने के लिए अयोध्या पहुंचे हैं. इसी बीच फैजाबाद के सांसद लल्लू सिंह ने दावा किया है कि अयोध्या की विवादित भूमि पर राम मंदिर का निर्माण जल्द कराया जाएगा. सरयू घाट पर दिवाली कार्यक्रम से पहले मीडिया से बातचीत करते हुए लल्लू सिंह ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण कार्य जल्द शुरू किया जाएगा. 

6 दिसंबर से शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण 
वहीं, राम जन्म भूमि मंदिर निर्माण न्यास के प्रमुख सदस्य और पूर्व बीजेपी सांसद राम विलास वेदांती महराज मे कहा था कि इस साल 6 दिसंबर से राम मंदिर का निर्माण  कार्य शुरू हो जाएगा. वेदांती ने दावा किया था कि राम मंदिर का निर्माण दोनों पक्षों की आपसी सहमति से शुरू होगा. वेदांती ने कहा, "भगवान राम की मां कौशल्या का जन्म छत्तीसगढ़ में हुआ था. इसलिए यह भगवान राम का ननिहाल है.श्रीराम हमारे सखा हैं इसलिए छत्तीसगढ़ की पावन भूमि मेरा भी ननिहाल है." इस दौरान उन्होंने घोषणा की कि राम मंदिर निर्माण का काम इस साल 6 दिसंबर 2018 से शुरू हो जाएगा.

देह त्यागने की दी धमकी
​फैजाबाद के सांसद से पहले बीजेपी के कई नेता राम मंदिर निर्माण का दावा कर चुके हैं. वहीं, सरकार पर साधु-संत लगातार राम मंदिर निर्माण कराने के लिए दवाब बनाए हुए हैं. सोमवार (5 नवंबर) को हरिसोमवार को सिद्ध संत और भारत माता मंदिर के परमाध्यक्ष स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिये वह छह दिसंबर से हर की पौड़ी पर अनशन शुरू करेंगे. देश के सभी संतों से इस अभियान में जुड़ने की अपील करते हुए स्वामी सत्यमित्रानंद ने कहा कि अगर अगले साल एक जनवरी तक मंदिर निर्माण की दिशा में कोई पहल नहीं हुई तो वह अपनी देह त्याग देंगे.

केंद्र सरकार को दी धमकी
उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी सरकार की चिंता किये बगैर राम मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ करने का आग्रह किया और कहा कि उन्हें अपनी सरकार की परवाह नहीं करनी चाहिए क्योंकि राम हैं तो राज है और सरकार है. भारत माता मंदिर के परमाध्यक्ष ने कहा, ‘‘यह ऐतिहासिक काम (राम मंदिर निर्माण) नरेंद्र मोदी को अपने रहते हुए करना चाहिए. सरकार को किसी लाभहानि के बारे में नहीं सोचना चाहिए.'’ उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिये संत और इंतजार नहीं कर सकते और सरकार को इस मामले में अब और देर नहीं करनी चाहिए .

सरयू घाट पर भव्य दिवाली कार्यक्रम का आयोजन
सरयू नदी के दोनों तट पर 3.35 लाख दीये जलाकर पूरी अयोध्या को जगमग किया जाएगा. इस आयोजन में हिस्सा दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग-सूक मुख्य अतिथि होंगी. उनके स्वागत के लिए शहर को खूब सजाया गया है और सड़कें एवं धरोहर इमारतें रोशनी से नहाई हुई हैं. सरयू नदी के घाट पर भगवान राम और भगवान हनुमान की मूर्ति लगाई गई है जबकि मुख्य कार्यक्रम के आयोजन स्थल के पास भव्य तोरण द्वार बनाया गया है. मालूम हो कि अयोध्या में हिंदूओं के अराध्य भगवान राम का जन्मस्थान माना जाता है.

कॉलेज छात्र भी लेंगे हिस्सा
अयोध्या की मुख्य सड़कें जगमग करती रोशनियों से नहाई हुई हैं. कार्यक्रम के लिए कई इमारतों को रोशनी से सजाया गया है. कार्यक्रम आयोजित कर रही टीम के एक सदस्य ने कहा, ‘नदी के दोनों तटों पर कल करीब 3.35 लाख दीये जलाने की योजना है. अवध विश्वविद्यालय के विभिन्न कॉलेजों के छात्र और अन्य लोग इन दीयों को जलाने आए हैं.’ उन्होंने कहा, ‘विश्वविद्यालय के कई छात्र नदी के तटों पर रामायण थीम पर रंगारंग रंगोलियां भी तैयार कर रहे हैं.’