close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रोहित सोलंकी की फर्जी ID के सहारे कमलेश तिवारी से जुड़ा था हत्यारोपी अशफाक

कमलेश तिवारी हत्याकांड में लखनऊ पुलिस को तीनों आरोपियों राशिद, मोहसिन और फैजान की ट्रांजिट रिमांड मिल गई है. 

रोहित सोलंकी की फर्जी ID के सहारे कमलेश तिवारी से जुड़ा था हत्यारोपी अशफाक
यूपी पुलिस की जांच में ये तथ्य सामने आए हैं.

लखनऊ: हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) के हत्यारोपी अशफाक ने फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाई थी. यह फर्जी आईडी रोहित सोलंकी के नाम से बनाई थी. रोहित सोलंकी की फर्जी आईडी के सहारे ही अशफाक कमलेश तिवारी से जुड़ा था. वह कमलेश की पार्टी में शामिल होने के नाम पर लखनऊ आया था. यूपी पुलिस की जांच में ये तथ्य सामने आए हैं. उधर, कमलेश तिवारी हत्याकांड में लखनऊ पुलिस को तीनों आरोपियों राशिद, मोहसिन और फैजान की ट्रांजिट रिमांड मिल गई है. अब पुलिस आरोपियों को लखनऊ लाएगी.  

कमलेश तिवारी का परिवार संतुष्ट नहीं  
हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड के परिवार ने रविवार को सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) से मुलाकात की. हालांकि, योगी से मुलाकात के बाद कमलेश तिवारी का परिवार भी संतुष्ट नहीं है. कमलेश तिवारी की मां कुसुम ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि वह बहुत दबाव में सीएम से मिलने गई थीं. मां ने यह भी आरोप लगाया कि उन्हें जबरदस्ती लखनऊ लाया गया. पुलिस वाले बार-बार दबाव डाल रहे थे. हिन्दू धर्म में 13 दिन कहीं जाया नहीं जाता. उन्होंने कहा कि अगर उन्हें इंसाफ नहीं मिला तो उनका परिवार तलवार उठा लेगा.

होटल मैनेजर से पूछा था ख़ुर्शीदबाग की मजार का पता 
दोनों हत्यारोपी ने हत्या से पहले होटल मैनेजर से ख़ुर्शीदबाग (कुछ ऐसे खुर्शीद बाबा अबास) की मजार का पूछा पता. उसके बाद इमामबाड़ा का पता पूछा. होटल स्टाफ से पूछा कि बरेली जाने के लिए साधन कहां से मिलेगा. पुलिस को होटल रूम से 2 बैग, 2 जोड़ी भगवा कपड़े जिसमें एक मे खून लगा था, चाकू, रूम से 20 रुपए के नोट जिसमें खून लगा था, चप्पल, रूमाल, 4 जोड़ी अलग से कपड़े. मोबाइल चार्जर एक मोबाइल का कवर मिला है. होटल कर्मियों ने पुलिस को सूचना दी कि होटल g103 में जो लोग रुके थे वह बिना चेक आउट किए गायब हो गए हैं. उनके कमरे में यह कपड़े मिले हैं. 

LIVE टीवी: 

पुलिस के हाथ लगी फुटेज
कमलेश तिवारी हत्याकांड (Kamlesh Tiwari Murder Case) में अब तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है. इस बीच पुलिस के हाथ एक अहम सुराग लगा है. लखनऊ के जिस होटल में हत्याकांड के ये दोनों आरोपी रुके थे, उस होटल के सीसीटीवी में दोनों कैद हो गए हैं. सीसीटीवी फुटेज में इन दोनों आरोपियों की शक्ल साफ नजर आ रही है. होटल के सीसीटीवी में कैद दोनों तस्वीरें कमलेश तिवारी के हत्यारों की बताई जा रही हैं. जिसमें पहली तस्वीर उस समय की है, जब दोनों ने होटल में चेक इन किया था. वहीं दूसरी तस्वीर उस समय की है, जब दोनों आरोपी हत्या की वारदात को अंजाम देने के लिए होटल से बाहर जा रहे थे. इन दोनों तस्वीरों के जरिये पुलिस आरोपियों को पकड़ने में जुटी हुई है. पुलिस के मुताबिक, ये दोनों तस्वीर उनकी जांच में काफी मददगार साबित हो सकती हैं.