लक्ष्मीकांत बाजपेयी को MP राज्यपाल बनाए जाने की मिल रही थी बधाई, पोस्ट में लिखा- आधारहीन खबरों का न लें संज्ञान

राज्यपाल लालजी टंडन का निधन होने के बाद से मध्य प्रदेश में नए गवर्नर की नियुक्ति का इंतजार है.

लक्ष्मीकांत बाजपेयी को MP राज्यपाल बनाए जाने की मिल रही थी बधाई, पोस्ट में लिखा- आधारहीन खबरों का न लें संज्ञान
MP राज्यपाल बनाए जानें की खबरों को बाजपेयी ने बताया आधारहीन.

लखनऊ: यूपी के कद्दावर नेता लक्ष्मीकांत बाजपेयी को मध्य प्रदेश का राज्यपाल बनाए जाने की खबरें झूठी हैं. लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने सोशल मीडिया पर गवर्नर के तौर पर नियुक्त किए जाने की खबरों को आधारहीन बताया है.

दरअसल, राज्यपाल लालजी टंडन का निधन होने के बाद से मध्य प्रदेश में नए गर्वनर की नियुक्ति का इंतजार है. ऐसे में शनिवार को जैसे ही यूपी बीजेपी अध्यक्ष रहे डॉ. लक्ष्मीकांत बाजपेयी का मध्य प्रदेश के नए राज्यपाल के तौर पर नाम सामने आया तो सोशल मीडिया पर बधाई देने वालों का तांता लग गया. केंद्रीय राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते से लेकर बीजेपी के कई वरिष्ठ नेताओं ने फेसबुक और ट्विटर के जरिए लक्ष्मीकांत बाजपेयी को राज्यपाल बनने की बधाई दे डाली. जिसके बाद लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने एक फेसबुक पोस्ट लिख राज्यपाल बनाए जाने की खबरों का खंडन कर किया है.

ये भी पढ़ें: अयोध्या में 5 एकड़ जमीन पर हॉस्पिटल और लाइब्रेरी बनवाएगा वक्फ बोर्ड, शिलान्यास के लिए CM योगी को देगा न्योता

बता दें कि लक्ष्मीकांत बाजपेयी को लेकर ऐसी चर्चाएं पहले भी कई बार उठ चुकी हैं. कल भी ऐसी खबर वायरल हुई कि ब्राह्मणों को साधते हुए भाजपा ने लालजी टंडन के बाद मेरठ से आने वाले डॉ. लक्ष्मीकांत बाजपेयी को मध्य प्रदेश का नया राज्यपाल बना दिया है. लेकिन इसे लेकर देर रात का कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिल पाई. जिसके बाद अब खुद लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही खबरों को आधारहीन बताते हुए इनका संज्ञान न लेने की बात कही है.

WATCH LIVE TV: