उत्तराखंड में भी इस तारीख तक बढ़ सकता है लॉकडाउन, केंद्र सरकार को भेजा जाएगा प्रस्ताव

कोरोना वायरस सामुदायिक स्तर पर न फैले इसके लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शुक्रवार को अपने आवास पर बैठक बुलाई. प्रदेश में लॉकडाउन 15 अप्रैल से बढ़ाकर 30 अप्रैल तक किया जा सकता है. इसके लिए राज्य सरकार जल्द ही केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजेगी.

उत्तराखंड में भी इस तारीख तक बढ़ सकता है लॉकडाउन, केंद्र सरकार को भेजा जाएगा प्रस्ताव
फाइल फोटो

देहरादून: कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए उत्तराखंड सरकार लॉकडाउन बढ़ाने पर विचार कर रही है. अगर सबकुछ ठीक रहा तो प्रदेश में लॉकडाउन 15 अप्रैल से बढ़ाकर 30 अप्रैल तक किया जा सकता है. इसके लिए राज्य सरकार जल्द ही केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजेगी.

कोरोना वायरस सामुदायिक स्तर पर न फैले इसके लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शुक्रवार को अपने आवास पर बैठक बुलाई थी. बैठक में कोविड-19 से बचाव और आगे की तैयारियों के लिए विचार विमर्श किया गया. 

ये भी पढ़ें- एक अफसर ने डॉक्टरों को कोरोना से बचाने का दिया ये मंत्र, सरकार ने भी किया सलाम

बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में आज सीएम आवास पर उच्च स्तरीय बैठक बुलाई गई थी. जिसमें कोरोना वायरस से निपटने के लिए आगे की रणनीति पर व्यापक विचार विमर्श किया गया. इस दौरान लॉकडाउन बढ़ानें और मास्क पहनने की अनिवार्यता पर भी चर्चा की गई है. जबकि सोशल डिस्टेंसिंग 31 मई तक जारी रखते हुए सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने को भी अनिवार्य किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें- Corona संकट: जरुरतमंद लोगों तक खाना पहुंचाने की कोशिश, नोएडा अथॉरिटी ने की ये पहल

खबर है कि राज्य सरकार जल्द ही केंद्र सरकार को इसके लिए प्रस्ताव भेजेगी. अगर केंद्र सरकार इस प्रस्ताव को मान लेती है तो राज्य को 30 अप्रैल तक लॉकडाउन कर दिया जाएगा. 

इसके अलावा राज्य सरकार सभी जिलों में hotspot को चिन्हित कर रही है. ताकि कोविड-19 फैलने से रोकने के लिए इन्हें पूरी तरह सील किया जा सके. गौरतलब है कि उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. अब तक राज्य में इस महामारी से ग्रसित मरीजों की संख्या 35 हो गई है. 

मुख्यमंत्री आवास पर हुई इस बैठक में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश, डीजीपी  अनिल कुमार, सचिवअमित नेगी, नितेश झा आदि उपस्थित थें.

Watch LIVE TV-