close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उत्तर प्रदेश के नव निर्वाचित राज्यसभा सांसदों से मिले अमित शाह, जानें मिलकर क्या कहा?

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने उत्तर प्रदेश से नवनिर्वाचित राज्य सभा सांसदों से मुलाकात की. मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि, 'मुझे विश्वास है कि ये सभी सांसद उत्तर प्रदेश की जनता के कल्याण के विषयों को सदन में रखेंगे और प्रदेश के विकास में सक्रिय भूमिका निभाएंगे.' 

उत्तर प्रदेश के नव निर्वाचित राज्यसभा सांसदों से मिले अमित शाह, जानें मिलकर क्या कहा?
मुझे विश्वास है कि ये सभी सांसद उत्तर प्रदेश की जनता के कल्याण के विषयों को सदन में रखेंगे और प्रदेश के विकास में सक्रिय भूमिका निभाएंगे- अमित शाह (फोटो- @AmitShah Twitter)

नई दिल्ली: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने उत्तर प्रदेश से नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसदों से मुलाकात की. मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि, 'मुझे विश्वास है कि ये सभी सांसद उत्तर प्रदेश की जनता के कल्याण के विषयों को सदन में रखेंगे और प्रदेश के विकास में सक्रिय भूमिका निभाएंगे.' उत्तर प्रदेश की 10 राज्यसभा सीटों में से 9 पर बीजेपी के प्रत्याशियों ने जीत हासिल की, जबकि सपा से जया बच्चन चुनकर उच्च सदन पहुंची हैं. उत्तर प्रदेश से बीजेपी के अरुण जेटली (वित्त मंत्री), डॉ. अशोक बाजपेयी, विजयपाल सिंह तोमर, जीवीएल नरसिम्हा राव, हरनाथ सिंह यादव, सकलदीप राजभर, कांता कर्दम, डॉ. अनिल जैन और अनिल अग्रवाल को जीत मिली है. 

वरिष्ठ सांसदों का अलग महत्व होता है- पीएम मोदी
28 मार्च को देश के 40 राज्यसभा सांसदों की विदाई हुई. जाने वाले सांसदों को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, 'वरिष्ठ सांसदों की राय और बातों का अपना एक महत्व होता है. रिटायर हो रहे सांसदों के लिए बेशक सदन के दरवाजे बंद हो जाए, लेकिन पीएमओ के दरवाजे हमेशा खुले रहेंगे.' अपने संबोधन में पीएम ने कहा कि जाने से पहले ये सभी सांसद नहीं बोल पाए, इसके लिए हम सभी जिम्मेदार हैं. बता दें रिटायर हो रहे सांसदों में भारत रत्न क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर भी शामिल हैं. सचिन को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि सभी खिलाड़ी उन्हें याद करेंगे.

 

 

ये विदाई है जुदाई नहीं-पीएम मोदी
राज्यसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि कोई भी राजनेता कभी रिटायर नहीं होता है. आजाद ने कहा कि रिटायट हो रहे सांसदों से रोजाना मुलाकात होगी. उन्होंने कहा कि देश में लोकतंत्र को किसी ने जिंदा रखा है तो वह सांसद और विधायिका ही है. सदन में लगातार हो रहे हंगामे पर बोलते हुए उन्होंने कहा, 'हम अपने लिए नहीं बल्कि जनता के लिए यहां पर लड़ रहे हैं.' नरेश अग्रवाल पर बोलते हुए आजाद ने कहा कि वह ऐसे सूरज हैं जो इधर से डूबे तो उधर से उग गए.

'जाने से पहले नहीं बोल पाए सांसद, इसके लिए हम सब जिम्मेदार'- राज्यसभा सांसदों की विदाई पर PM मोदी

सेवानिवृत्त हो रहे सदस्यों के प्रति भी सद्भाव नहीं
बुधवार को विपक्ष के हंगामे के कारण सदन में सेवानिवृत्त हो रहे सांसद अपना भाषण नहीं पढ़ पाए, जिसके बाद उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने इस पर नाराजगी जाहिर की. उन्होंने कहा 'हमारे मन में सेवानिवृत्त हो रहे सदस्यों के प्रति भी सद्भाव नहीं बची है कि हम उनके अनुभव भी साझा कर सकें.' नायडू ने नारेबाजी कर रहे सदस्यों से अपने स्थान पर जाने का अनुरोध नहीं मानने पर कहा कि सदस्यों के इस रवैये के कारण सदन की गरिमा दांव पर लग गई है. सेवानिवृत्त हो रहे सदस्यों का विदाई भाषण सदन की कार्यवाही का अनिवार्य अंग है. नारेबाजी के लिए यह सही समय नहीं है.