UP के किसान Co-Operative Bank से घर बैठे कर सकेंगे लोन का भुगतान, इन सुविधाओं से हुआ लैस

कोआपरेटिव बैंक लि. को इंटरनेट बैंकिंग लाइसेंस मिल जाने से यूपीसीबी मुख्यालय  (UPCB) के साथ ही इसकी सभी शखाओं के खाता धारक 24 घंटे ऑनलाइन लेन-देन की कर सकेंगे. 

UP के किसान Co-Operative Bank से घर बैठे कर सकेंगे लोन का भुगतान, इन सुविधाओं से हुआ लैस
फाइल फोटो

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के किसान भी अब अपने पसंदीदा कोआपरेटिव बैंक लि. (Co-Operative Bank Ltd.) से ऑनलाइन भुगतान कर सकेंगे. इस बैंक के ग्राहक घर बैठे 24 घंटे इंटरनेट बैंकिंग सेवाओं के लाभ उठा सकेंगे. भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने 24 जून से ही इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा प्रदान कर दी है. 

घर बैठे इन सेवाओं का उठा सकेंगे लाभ 
कोआपरेटिव बैंक लि. को इंटरनेट बैंकिंग लाइसेंस मिल जाने से यूपीसीबी मुख्यालय  (UPCB) के साथ ही इसकी सभी शखाओं के खाता धारक  24 घंटे ऑनलाइन लेन-देन की कर सकेंगे. बाकी बैंकों की तरह अब ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी निफ्ट, आरटीजीएस, यूपीआई, क्यूआर कोड स्कैनिंग सेवा का लाभ घर बैठे उठा सकेंगे. 

BA थर्ड इयर की छात्रा आरती तिवारी को बीजेपी ने UP के इस सीट से बनाया प्रत्याशी

ऑनलाइन कर सकेंगे भुगतान 
इसके अलावा किसानों को अपने लोन की ईएमआई (EMI) का भी भुगतान करने के लिए बैंकों का चक्कर लगाने की जरुरत नहीं पड़ेगी. ग्रामीण क्षेत्र में किसान जो कि बैंक के ग्राहक हैं, वह गांवों में स्थित खाद व बीज की सहकारी संस्थाओं से क्यूआर कोड स्कैन कर आसानी से लेन-देन कर पाएंगे.  

दुल्हन ने सुहागरात के दिन किया ऐसा काम, पहुंच गई सलाखों के पीछे, जानें पूरा मामला

बैंक ने तैयार कर ली है अपनी वेबसाइट 
कोआपरेटिव बैंक लि. के अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक, इंटरनेट बैंकिंग के लिए बैंक ने अपनी वेबसाइट तैयार करा ली है. जल्द ही इस सेवा को शुरू कर दिया जाएगा. बैंक के अधिकारियों का कहना है कि इंटरनेट बैंकिंग की सेवा शुरू होने पर बैंक की शाखाओं से ग्राहकों का दबाव कम हो जाएगा. बैकिंग में होने वाली मानवीय गलतियां पूरी तरह समाप्त हो जाएंगी.

UP News: बेसिक शिक्षा विभाग में 3 साल से एक ही जगह पर जमे कर्मियों का होगा ट्रांसफर

एक साल पहले किया था आवेदन 
बता दें कि 22 जून 2020 को सहकारिता विभाग के तत्कालिन अपर मुख्य सचिव एमवीएस रामी रेड्डी ने बैंक के प्रबंध निदेशक भूपेंद्र कुमार के माध्यम से इंटरनेट बैंकिंग लाइसेंस के लिए भारतीय रिजर्व बैंक में आवेदन कराया था. एक साल तक कागजी प्रक्रिया के बाद 21 जून को भारतीय रिजर्व बैंक ने इंटरनेट बैंकिंग का लाइसेंस जारी कर दिया. 

OMG: नन्हे से बच्चे ने पकड़ लिया सांप का मुंह, छटपटाता रहा 

WATCH LIVE TV