गोरखपुर में बनेगा 100 बेड का नया कोविड अस्पताल, BRD में बढ़ेंगे 50 वेंटिलेटर बेड - CM योगी

सीएम ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 50 वेंटीलेटर बेड बढ़ाने, और VBS स्पोर्ट्स कॉलेज में 100 बेड का लेवल-2 बेड का अस्पताल बनाने की मंजूरी दे दी है.

गोरखपुर में बनेगा 100 बेड का नया कोविड अस्पताल, BRD में बढ़ेंगे 50 वेंटिलेटर बेड - CM योगी
फाइल फोटो.

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड संक्रमण से निपटने के लिए गोरखपुर में कोरोना. जिले के बड़हलगंज के राजकीय होम्योपैथिक अस्पताल को कोविड हॉस्पिटल बनाया जाएगा. लेवल-3 के इस कोविड अस्पताल में 100 आईसीयू बेड में से 75 बेड वेंटीलेटर के होंगे, और 25 बाइपैक ऑक्सीजन सुविधा युक्त होंगे. इसके अलावा सीएम ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 50 वेंटीलेटर बेड बढ़ाने, और VBS स्पोर्ट्स कॉलेज में 100 बेड का लेवल-2 बेड का अस्पताल बनाने की मंजूरी दे दी है.

पिछले 24 घंटे में मिले 26847 नए केस
उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने शनिवार को बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 26,847 नए मामले सामने आए हैं. जबकि डिस्चार्ज होने वाले लोगों की संख्या 34,731 है. कल प्रदेश में 2,23,155 सैंपल्स की जांच की गई, टेस्ट की संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है. पिछले एक सप्ताह में सक्रिय मामलों में लगभग 60 हज़ार मामलों की कमी आई है.

वाराणसी: DRDO ने तैयार कर दिया 750 बेड का अस्थाई अस्पताल, मिलेंगी ये सुविधाएं

कोविड से होने वाली मौत के आंकड़ों में यूपी की स्थिति बेहतर
24 करोड़ की आबादी वाला यह राज्य कोविड केसेज और कोरोना से होने वाली मौतों के मामले में देश में बेहतर स्थिति में है. मुख्यमंत्री योगी के बेहतर प्रबंधन, सख्ती और लगातार सक्रियता ने कोरोना के केसेज और इससे हुई मौतों के मामले को कम किया है. जिसकी वजह से उत्तर प्रदेश देश में 14 वें स्थान पर है. 

आंकड़ों के हिसाब से 1 अप्रैल से यूपी में प्रति मिलियन के हिसाब से 3502 कोरोना के केस आए, जबकि 25 मौतें हुईं. वहीं, महज पौने दो करोड़ की आबादी के राज्य दिल्ली में उत्तर प्रदेश से 15 गुना ज्यादा मौतें हुई हैं. दिल्ली में एक अप्रैल से प्रति मिलियन 29683 केस, 358 मौतें हुईं. 

गांवों में चलाया जा रहा स्क्रीनिंग अभियान 
पंचायत चुनाव के बाद गांवों में कोरोना संक्रमण ना फैले. इसलिए ऐहतियात के तौर पर इस समय निगरानी समितियां 97 हजार राजस्व गांवों में स्क्रीनिंग अभियान के तहत कार्य कर रही है. जहां एंटीजन टेस्ट तत्काल हो रहे हैं. उन्होंने बताया कि अभी मैं मनोहरपुर गांव से होकर आ रहा हूं. मेडीकल किट के साथ दवाइयों को देने का काम तेजी से हो रहा है. 

WATCH LIVE TV