वाराणसी: DRDO ने तैयार कर दिया 750 बेड का अस्थाई अस्पताल, मिलेंगी ये सुविधाएं

वाराणसी जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने जानकारी दी है कि 11 मई से अस्पताल की शुरुआत हो जाएगी और मरीजों को राहत मिलेगी. सेना के डॉक्टर के अलावा BHU के सीनियर डॉक्टरों की देख रेख में यहां मरीजों का इलाज होगा. 

वाराणसी: DRDO ने तैयार कर दिया 750 बेड का अस्थाई अस्पताल, मिलेंगी ये सुविधाएं

वाराणसी: कोरोना संकट के बीच मरीजों और तीमारदारों को थोड़ी राहत देने के लिए DRDO ने एक और अस्थाई अस्पताल तैयार किया गया है. राजधानी लखनऊ के बाद अब वाराणसी के BHU के एम्फीथिएटर मैदान में इस अस्पताल की शुरुआत हो रही है. यह अस्पताल  पद्मभूषण पंडित राजन मिश्र को समर्पित किया गया है. आपको बता दें, पंडित राजन मिश्र बनारस संगीत घराने के पुरोधा संगीत साधक हैं. 

UP में दिखने लगा पाबंदियों का असर, एक हफ्ते में कम हुए 56,000 से अधिक एक्टिव केस

पंडित राजन मिश्र भी थे कोरोना संक्रमित
गौरतलब है कि बीते शुक्रवार, अस्पताल पूरा होने के बाद बाहर पंडित कोविड अस्पताल का बोर्ड लगाया गया. बोर्ड पर एक तरफ राजन मिश्र और दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो है. आपको बता दें, पंडित राजन मिश्र का कोरोने के बाद आए हार्ट अटैक से निधन हुआ था. वह दिल्ली के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती थे. उनके निधन की खबर पर पीएम मोदी ने भी ट्वीट कर शोक व्यक्त किया था.

मरीज की भर्ती के लिए देनी पड़ रही है आधार कार्ड की हार्ड कॉपी? जानें आगरा DM ने क्या कहा

10 मई को पीएम मोदी कर सकते हैं उद्घाटन
DRDO द्वारा बनाए गए इस कोविड अस्पताल का उद्घाटन पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से वर्चुअल तरीके से करेंगे. इस समारोह में सीएम योगी भी मौजूद रहेंगे. इसकी तैयारी के लिए अधिकारी जुटे हुए हैं. कल से अस्पताल में 2 दिन का ड्राई रन शुरू हो रहा है. यह ट्रायल रन आज ही शुरू होने वाला था, लेकिन कुछ दिक्कतों की वजह से इसे एक दिन आगे बढ़ा दिया गया है. इस दौरान सभी मशीनों को जांचा जाएगा. ड्राई रन की सक्सेस के बाद अस्पतालों में मरीजों का इलाज शुरू हो जाएगा.

राहत: नोएडा स्टेडियम में आज से शुरू हो गया कोविड अस्पताल, मिलेंगी ये नि:शुल्क सुविधाएं

आर्मी डॉक्टर्स के साथ BHU डॉक्टर्स करेंगे इलाज
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वाराणसी जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने जानकारी दी है कि 11 मई से अस्पताल की शुरुआत हो जाएगी और मरीजों को राहत मिलेगी. सेना के डॉक्टर के अलावा BHU के सीनियर डॉक्टरों की देख रेख में यहां मरीजों का इलाज होगा. ऐसी भी संभावना जताई जा रही है कि पीएम मोदी वर्चुअल माध्यम से इसका उद्घाटन कर अस्पताल जनता को समर्पित कर सकते हैं.

बच्चों को संक्रमण से बचाने के लिए आगे भी नहीं खुलेंगे स्कूल, जानें क्या लिया गया फैसला

ये होंगी सुविधाएं
बढ़ते हुए कोरोना की वजह से मरीजों को होने वाली समस्या से निजात दिलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आदेश के पर डीआरडीओ ने बीएचयू स्थित स्टेडियम में अस्थाई 750 का ऑक्सीजन युक्त कोविड अस्पताल तैयार किया है. इस अस्पताल को पीएम केयर फंड के तहत बनाया गया है. 

गाय का दूध निकालने की कर रही थी कोशिश, गौ माता ने दे दिया ऐसा प्रसाद, हंसते रह जाएंगे आप

3 जोन में बंटा अस्पताल
16 दिन में तैयार हुए इस अस्पताल में 750 बेड हैं. जिसमें 500 बेड पर ऑक्सीजन की सुविधा और 250 बेड ICU की भी सुविधा दी जा रही है. अस्पताल में 250 बेड का एक जोन होगा. इसमें वेंटिलेटर से लेकर सभी जीवनरक्षक इंतजाम किए गए हैं. अन्य दो जोन में ऑक्सीजन के बेड हैं. उन पर भी एचएफएनसी और बाईपेप का इंतजाम इमरजेंसी के लिए रहेगा. 

WATCH LIVE TV