close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूपी: व्यक्ति ने फेसबुक पर महिला बनकर पुलिस अफसरों की पत्नियों को दिया झांसा

पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है जिसने फेसबुक पर अपनी प्रोफाइल साक्षी पटेल के नाम से बनाई है.

यूपी: व्यक्ति ने फेसबुक पर महिला बनकर पुलिस अफसरों की पत्नियों को दिया झांसा
पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. फाइल फोटो

लखनऊ : लखनऊ में एक आदमी ने औरत बनकर पहले फेसबुक पर सरकारी अफसरों की पत्नियों से दोस्ती की और बाद में आपत्तिजनक कॉल कर उन्हें परेशान किया. पुलिस ने मंगलवार को इसकी सूचना दी.

पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है जिसने फेसबुक पर अपनी प्रोफाइल साक्षी पटेल के नाम से बनाई है. विभूति कांड में एक हफ्ते के अंदर दर्ज इन दो मामलों को साइबर सेल में भेज दिया गया है. एक अधिकारी की पत्नी द्वारा दायर शिकायत के मुताबिक, फेसबुक पर 19 अगस्त को साक्षी पटेल के नाम से उन्हें रिक्वेस्ट आई जिसे उन्होंने एक्सेप्ट कर लिया.

अगले दिन, साक्षी पटेल ने उन्हें 'हाय' लिखकर भेजा जिसके जवाब में उन्होंने भगवान की तस्वीर के साथ 'गुड मॉर्निग' लिखकर भेजा. उसी रात से मुसीबत शुरू हुई, जब मैसेंजर पर साक्षी पटेल की ओर से उन्हें कॉल आना शुरू हुआ और तब जाकर उन्हें पता लगा कि साक्षी पटेल कोई महिला नहीं बल्कि एक पुरूष है और फेसबुक पर उसने फेक प्रोफाइल बना रखी है.

देखें LIVE TV

शिकायतकर्ता ने कहा, "वह सही हालत में नहीं था और मैंने तुरंत कॉल काट दिया." इसके बाद आरोपी उनके फेसबुक पेज पर आपत्तिजनक संदेश पोस्ट करने लगा. इसके बाद आरोपी ने कहा कि उसके पास उनके वीडियो कॉल का स्क्रीनशॉट है और अगर उन्होंने उससे बात नहीं की तो वह उनकी तस्वीरों को मॉर्फ (बदलकर या बिगाड़कर) कर उन्हें वायरल कर देगा. उसने वीडियो कॉल भी किए जिसमें वह बिल्कुल नग्न था. एक अन्य अधिकारी की पत्नी द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत में इसी तरह की एक घटना उभरकर सामने आई है.

विभूति खंड स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) राजीव द्विवेदी ने इस बात की पुष्टि की है कि दोनों ही मामलों में आरोपी एक ही व्यक्ति है जिसका फेसबुक प्रोफाइल पर नाम साक्षी पटेल है. उन्होंने कहा, "उस व्यक्ति के खिलाफ इलेक्ट्रॉनिक रूप में अश्लील कंटेंट पब्लिश करने और धमकी देने का मामला दर्ज किया गया है. अब इस मामले की आगे की जांच लखनऊ पुलिस की साइबर सेल करेगी."