close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विधानसभा उपचुनाव: सब्जी बेचने वाले का बेटा बना BJP प्रत्याशी, इस सीट से मिला विधायक का टिकट

घोसी विधानसभा सीट के विधायक फागू चौहान को बिहार राज्य का राज्यपाल बनाया गया. इसके बाद इसी सीट पर हो रहे उपचुनाव में सब्जी बेचने वाले को टिकट मिला है.

विधानसभा उपचुनाव: सब्जी बेचने वाले का बेटा बना BJP प्रत्याशी, इस सीट से मिला विधायक का टिकट
विधानसभा उपचुनाव में जीत के लिए पिता से आशीर्वाद लेते बीजेपी प्रत्याशी विजय राजभर.

मऊ (विजय मिश्रा): उत्तर प्रदेश में 21 अक्टूबर होने जा रहे विधानसभा उपचुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपने दस उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है. मऊ जिले के घोसी विधानसभा सीट से पार्टी ने सब्जी बेचने वाले के बेटे विजय राजभर (Vijay Rajbhar) को टिकट दिया है.

पार्टी नेताओं के मुताबिक उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने पंडित दिनदयाल उपाध्याय के सपनों को साकार करते हुए सब्जी बेचने वाले के बेटे को प्रत्याशी घोषित किया है. पंडित दिनदयाल उपाध्याय का सपना था कि समाज के अंतिम व्यक्ति को भी देश के उच्च पदों और समाज की मुख्यधारा से जोड़ा जाए. इसी पर काम करते हुए भारतीय जनता पार्टी ने पहले तो घोसी विधानसभा सीट के विधायक फागू चौहान को बिहार राज्य का राज्यपाल बनाया. इसके बाद इसी सीट पर हो रहे उपचुनाव में एक छोटे से कार्यकर्ता विजय को प्रत्याशी घोषित कर चुनावी रण में उतार दिया.

दरअसल, भारतीय जनता पार्टी द्वारा जिस विजय राजभर को प्रत्याशी बनाया गया है वह पार्टी के नगर अध्यक्ष के रूप में सक्रिय कार्य़कर्ता हैं. विजय राजभर आम और खास सभी पार्टी के कार्य़क्रमों में अहम किरदार अदा करते हैं. पार्टी के सभी लोगों के प्रिय और नेक दिल युवा नेता के रूप में उनकी पहचान है. विजय ने नगर पालिका क्षेत्र के चुनाव में एक बार सभासदी का चुनाव अपने ही सहादतपुरा मुहल्ले से लड़ा था, जिसमें उन्हें जीत हासिल हुई थी.

इसके अलावा विजय के पिता नन्द लाल राजभर सब्जी की दुकान चला कर अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं. जब उन्हें इस बात की जानकारी हुई कि उनके बेटे को विधायकी के लिए टिकट पार्टी ने दिया है तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा. पिता ने पीएम मोदी का धन्यवाद करते हुए अपने बेटे को जीत का आशीर्वाद दिया.