मायावती बोलीं, 'SP-BSP गठबंधन से घबराई BJP, गठजोड़ के लिए खा रही है दर-दर की ठोकरें'

मायावती ने ट्वीट कर कहा कि बीजेपी द्वारा लोकसभा चुनाव हेतु पहले बिहार, फिर महाराष्ट्र और तमिलनाडु में पूरी लाचारी में दण्डवत होकर गठबंधन करना, क्या इनके मज़बूत नेतृत्व को दर्शाता है? 

मायावती बोलीं, 'SP-BSP गठबंधन से घबराई BJP, गठजोड़ के लिए खा रही है दर-दर की ठोकरें'
फाइल फोटो

नई दिल्ली: बसपा अध्यक्ष मायावती ने कहा है कि सपा-बसपा गठबंधन से घबराकर बीजेपी को अब लोकसभा चुनाव के मद्देनजर विभिन्न दलों के साथ गठबंधन करने के लिये दर दर की ठोकरें खानी पड़ रही है. मायावती ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि बीजेपी द्वारा लोकसभा चुनाव हेतु पहले बिहार, फिर महाराष्ट्र और तमिलनाडु में पूरी लाचारी में दण्डवत होकर गठबंधन करना, क्या इनके मज़बूत नेतृत्व को दर्शाता है? 

उन्होंने बीजेपी की गठबंधन करने की मजबूरी का जिक्र करते हुए कहा कि वास्तव में बसपा-सपा गठबंधन से बीजेपी इतनी ज़्यादा भयभीत है कि इसे अब अपने गठबंधन के लिये दर-दर की ठोकरें खानी पड़ रही है.

अगले आम चुनाव में बीजेपी की हार को सुनिश्चित बताते हुए मायावती ने कहा कि लेकिन बीजेपी अब चुनाव के समय में चाहे लाख हाथ-पांव मार ले, इनकी गरीब, मजदूर, किसान और जनविरोधी नीति तथा इनके अहंकारी रवैये से लगातार दु:खी एवं त्रस्त, देश की 130 करोड़ जनता इन्हें अब किसी भी कीमत पर माफ करने वाली नहीं है. जनता इनका घमण्ड चुनाव में तोड़ेगी और इनकी सरकार जायेगी. 

 आपको बता दें कि बीजेपी और अन्नाद्रमुक ने साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. गठबंधन के मुताबिक, बीजेपी तमिलनाडु की 5 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी. इसके अलावा बीजेपी और एआईएडीएमके पुदुचेरी में भी साथ चुनाव लड़ेंगे. गठबंधन को लेकर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि दोनों पार्टियां साथ में मिलकर तमिलनाडु में स्वीप करेंगी. अन्नाद्रमुक के संयोजक और उपमुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम और केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता पीयूष गोयल ने 'महागठबंधन' की घोषणा की. 

वहीं, महाराष्ट्र में भी बीजेपी ने शिवसेना के साथ गठबंधन का ऐलान किया. सीएम देवेंद्र फडणवीस ने सोमवार को दोनों दलों का गठबंधन आगामी लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव में बरकरार रहने की घोषणा की थी. महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव में शिवसेना 23 और बीजेपी 25 सीटों पर लड़ेगी. लोकसभा के साथ सीएम देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव को लेकर गठबंधन की स्थित भी साफ कर दी. उन्होंने कहा कि प्रदेश में हमारे जो मित्र हैं उनकी सीटें छोड़कर बीजेपी और शिवसेना आधी-आधी सीटों पर चुनाव लड़ेगी.