रोज छेड़ता था लड़का, किसी ने नहीं दिया साथ, तो लड़की ने खुद को किया आग के हवाले

पीड़ित नाबालिग लड़की को रास्ते में रोक कर एक लड़का छेड़ता था और अपशब्द भी बोलता था. इस बात से परेशान होकर बच्ची ने अपने घर में मिट्टी का तेल छिड़क कर जान देने की कोशिश की थी. अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

रोज छेड़ता था लड़का, किसी ने नहीं दिया साथ, तो लड़की ने खुद को किया आग के हवाले

राजेश मिश्र/ मिर्जापुर: उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के लालगंज थाना क्षेत्र में एक नाबालिग छात्रा ने मनचले की छेड़खानी से तंग आकर आग लगा ली और अपनी जान दे दी. मृतक लड़की की उम्र 15 साल थी. मामले में परिवार वालों की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर युवक को गिरफ्तार कर लिया है. 

ये भी देखें: VIDEO: इंसानियत भूल घर में घुस गए, गाड़ी न हटाने की दी ये बेरहम सजा

डीएम और एसपी ने दिया पीड़ित परिवार को न्याय का भरोसा
बताया जा रहा है कि कई हफ्ते से चल रही छेड़खानी और प्रताड़ना के बीच गांव के लोग चुप्पी साधे हुए थे. किसी प्रकार की मदद और राहत न मिलने पर छात्रा ने अपने घर में मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा ली. गंभीर रूप से झुलसी बच्ची को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. हादसे के बाद बालिका के गांव पहुंचे डीएम और एसपी ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया है. पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर कार्रवाई में जुटी है.

रास्ते में रोक कर करता था छेड़-छाड़
मृतक बच्ची स्कूल जाने के साथ कोचिंग भी पढ़ रही थी. उस पर बुरी नजर रखने वाला गांव का ही पड़ोसी अक्सर उसे परेशान करने लगा. जब भी वह साइकिल से निकलती थी, तो मनचला अपनी बाइक उसकी साइकिल के आगे खड़ी कर देता था. लड़की ने शिकायत भी की थी कि वह अपशब्द बोलकर उसके साथ छेड़खानी करता है, लेकिन पूरा गांव मौन था तो परिजन उसे समझाते रहे. इसके बाद जब सम्मान के साथ जीने और आगे बढ़ने का कोई सहारा न मिलने पर बिटिया ने अपने ऊपर तेल छिड़ककर खुद को आग के हवाले कर दिया.

इलाज के दौरान नाबालिग ने तोड़ा दम
बुरी तरह से आग में झुलसी बिटिया को लोकर ट्रीटमेंट सेंटर पर ले कर गए, लेकिन वहां पर हाथ खड़े कर दिए. इसके बाद घरवालों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया. इलाज के दौरान ही बिटिया ने दम तोड़ दिया. हादसे की जानकारी मिलने पर एक्टिव हुई पुलिस ने केस दर्ज कर लिया. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और कानूनी कार्रवाई में जुट गई है. 

एसपी ने दी जानकारी
एसपी अजय कुमार ने जानकारी दी कि मृतक बच्ची के दादा जी ने थाने आकर तहरीर दी थी कि उनकी पोती को रास्ते में रोक कर एक लड़का छेड़ता था और अपशब्द भी बोलता था. इस बात से परेशान होकर बच्ची ने अपने घर में मिट्टी का तेल छिड़क कर जान देने की कोशिश की थी. अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. तहरीर के अनुसार आरोपी युवक को गिरफ्तार कर कार्रवाई की जा रही है.

WATCH LIVE TV