कोरोना टेस्टिंग में देश में दूसरे नंबर पर यूपी, एक दिन में हुए 54 हजार से ज्यादा टेस्ट

कोरोना वायरस के खात्मे के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार कारगर कदम उठा रही है. इसी के मद्देनजर लखनऊ में डोर-टू-डोर अभियान प्रारम्भ करा दिया गया है.

कोरोना टेस्टिंग में देश में दूसरे नंबर पर यूपी, एक दिन में हुए 54 हजार से ज्यादा टेस्ट
फाइल फोटो

लखनऊ : कोरोना वायरस के खात्मे के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार कारगर कदम उठा रही है. इसी के मद्देनजर लखनऊ में डोर-टू-डोर अभियान प्रारम्भ करा दिया गया है. प्रदेश में एक दिन में 54,879 टेस्ट हुए है, जो अब तक का सर्वाधिक है इस  आंकड़े के बाद उत्तर प्रदेश टेस्टिंग के मामले में देश का दूसरा राज्य बन गया है. 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सूची और चरणबद्ध ढंग से एन्टीजन टेस्ट बढ़ाकर 50 हजार प्रतिदिन किए जाने का आदेश दिया है. सीएम योगी ने निर्देश दिया कि घर-घर जाकर टेस्ट कराए जाएं, उन्होंने एक लाख टेस्ट प्रतिदिन करने का लक्ष्य दिया है. 

सीएम योगी ने कहा कि मेडिकल स्क्रीनिंग में कोविड-19 के संक्रमण की दृष्टि से संदिग्ध पाए जाने वाले लोगों की रैपिड एन्टीजन टेस्ट के माध्यम से जांच की जाए. जिलों के नोडल अधिकारी प्रतिदिन अपनी रिपोर्ट मुख्य सचिव को प्रस्तुत करें. मुख्य सचिव इस रिपोर्ट के आधार पर मुख्यमंत्री  को पूरी जानकारी उपलब्ध कराएंगे.

ये भी पढ़ें: यूपी में अब हफ्तेभर खुलेंगी शराब की दुकानें, केवल इस क्षेत्र में रहेगी पाबंदी

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम योगी ने कहा कि सेल्फ टेस्ट प्रणाली जनपदों में लागू किया जाए, जहां पर कोई भी व्यक्ति जाकर टेस्ट करा सकता है. इसी के साथ उन्होंने निजी चिकित्सालयों में भी कोरोना इलाज की अनुमति दी है. 

watch live tv: