UP: कैदी बनेंगे रेडियो जॉकी, उन्नाव जेल में रेडियो स्टेशन शुरू

उन्नाव में जिला कारागार में बंद कैदी अब रेडियो जॉकी का किरदार निभाएंगे.

UP: कैदी बनेंगे रेडियो जॉकी, उन्नाव जेल में रेडियो स्टेशन शुरू
मकर संक्रांति पर्व पर रेडियो स्टेशन शुरू

उन्नाव: उत्तर प्रदेश के उन्नाव में जिला कारागार में बंद कैदी अब रेडियो जॉकी का किरदार निभाएंगे. संगीत का हुनर रखने वाले बंदी रेडियो जॉकी बन कैदियों का मानसिक तनाव दूर करने में अहम भूमिका अदा करेंगे. इस पहल के सारथी डॉ प्रदीप रघुनंदन बने हैं. जो प्रदेश के कई जिलों में बंदियों के आचरण सुधार में अहम भूमिका निभा रहे हैं.

उन्नाव में जिला कारागार में मकर संक्रांति पर्व पर रेडियो स्टेशन शुरू हुआ है. इस अनूठे अभियान की शुरुआत जेल अधिकारियों और डीएम की मौजूदगी में हुई. जिला कारागार के रेडियो स्टेशन पर कैदी रेडियो जॉकी बन अपने साथियों की फरमाइश पर गीत प्रस्तुत करेंगे. साथ ही जेल समाचारों में दिन भर के क्रियाकलापों, मुख्य घटनाओं और प्रेरक प्रसंगों को भी प्रस्तुत करेंगे. प्रत्येक दिन 4 घंटे रेडियो जॉकी का कार्यक्रम चलेगा.

जेल सुधार के क्षेत्र में 14 साल से काम कर रहे सामाजिक कार्यकर्ता और जेल सहायक डॉक्टर प्रदीप रघुनंदन की पहल पर जिला कारागार में रेडियो स्टेशन शुरू किया गया है. वहीं जेल अधीक्षक ने कहा कि जिला जेल में प्रदीप रघुनंदन ने निशुल्क रेडियो जॉकी कार्यक्रम का आयोजन किया है. इसके पहले वह कई जिलों में कार्यक्रम शुरू कर चुके हैं.

वहीं डीएम ने कहा कि जेल में रेडियो जॉकी का शुभारंभ किया गया है. जेल रेडियो के माध्यम से बंदी और कैदियों को स्वस्थ मनोरंजन मिलेगा और शासकीय योजनाओं की जानकारी व कौशल विकास संबंधी कार्यक्रमों की जानकारी दी जाएगी.