close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अगर मुझे टिकट नहीं दिया तो उन्नाव में चुनाव हार सकती है BJP: साक्षी महाराज

  उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने पार्टी नेतृत्व को अप्रत्यक्ष रूप से धमकी देते हुए बुधवार को चेतावनी दी कि कि अगर इस सीट से उन्हें दोबारा टिकट नहीं दिया गया तो इसका परिणाम पार्टी के पक्ष में सुखद नहीं होगा।

अगर मुझे टिकट नहीं दिया तो उन्नाव में चुनाव हार सकती है BJP: साक्षी महाराज
बीजेपी सांसद साक्षी महाराज (फाइल फोटो)

उन्नाव (उत्तर प्रदेश):  उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने पार्टी नेतृत्व को अप्रत्यक्ष रूप से धमकी देते हुए बुधवार को चेतावनी दी कि कि अगर इस सीट से उन्हें दोबारा टिकट नहीं दिया गया तो इसका परिणाम पार्टी के पक्ष में सुखद नहीं होगा।

चार बार सांसद रह चुके साक्षी ने कहा, 'अगर मेरे अलावा किसी और को उन्नाव से चुनाव मैदान में उतारा गया तो संभव है भाजपा के पक्ष में परिणाम सुखद नहीं हों।' 
बीजेपी सांसद (63) ने कहा कि इस संबंध में उन्होंने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय को एक पत्र भी लिखा था जो सोशल मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में वायरल हो गया है।

‘पत्र कैसे लीक हुआ इसकी जांच होनी चाहिए’ 
साक्षी महाराज ने इस पत्र के मीडिया में लीक होने पर हैरानी जताते हुए कहा कि यह पत्र सांसद के लेटरहेड पर टाइप किया हुआ था और इस बात की जांच होनी चाहिए कि आखिर यह पत्र लीक कैसे हुआ?  उन्होंने कहा, 'टिकट तो मेरा पक्का है, मुझे इस बात का पूरा विश्वास है।'  उन्होंने कहा, 'उन्नाव से मुझे टिकट नहीं देने के संबंध में अगर पार्टी कोई निर्णय लेती है तो इससे प्रदेश और देश के मेरे करोड़ों कार्यकर्ताओं के आहत होने की पूरी संभावना है, जिसका परिणाम भी सुखद नहीं होगा।' 

साक्षी महाराज ने क्या लिखा था पत्र में?
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पांडेय को लिखे पत्र में उन्नाव के सांसद ने कहा, '15 साल बाद इस सीट पर मैंने जीत दर्ज की थी।' सात मार्च को भेजे गये पत्र में साक्षी महाराज ने कहा, 'मैं आपका ध्यान उन्नाव लोकसभा सीट की ओर आकर्षित करना चाहता हूं। इस लोकसभा सीट पर मैंने 2014 में 3,15,000 मतों से जीत दर्ज की थी, जबकि समाजवादी पार्टी दूसरे नंबर पर रही थी और कांग्रेस और बसपा के प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गयी थी।’

उन्होंने दावा किया कि अगर पार्टी उन्हें दोबारा चुनाव मैदान में उतारती है तो वह चार से पांच लाख मतों के अंतर से इस सीट पर फिर जीत दर्ज करेंगे।