नोएडा: खेलते हुए ग्राउंड फ्लोर से डबल बेसमेंट में गिरा छात्र, हालत गंभीर

लोगों के हंगामे को देख एक्सप्रेस कोतवाली में जेपी ग्रुप के एमडी मनीष गौड़ और एफएमजी अजीत शर्मा पर लापरवाही का की रिपोर्ट दर्ज कराई. 

नोएडा: खेलते हुए ग्राउंड फ्लोर से डबल बेसमेंट में गिरा छात्र, हालत गंभीर
फाइल फोटो

नई दिल्ली/नोएडा: नोएडा में बिल्डरों के निर्माण कार्यों को लेकर एक बार फिर सवाल उठे हैं. मामला नोएडा के सेक्टर 134 स्थित क्लासिक जेपी विश टाउन सोसायटी का है. जानकारी के मुताबिक, सोमवार (30 जुलाई) की शाम को खेलते हुए 8 साल का एक बच्चा ग्राउंड फ्लोर से डबल बेसमेंट में गिर गया. बताया जा रहा है कि बच्चा करीब 25 से 30 फीट नीचे बेसमेंट में गिर गया, जिसकी वजह से वो बुरी तहर चोटिल हो गया. आनन-फानन में बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है. 

हादसे के बाद सोसायटी में हड़कंप मच गया. फायर फाइटिंग और सिक्योरिटी मेजर्स नहीं होने के कारण मौके पर पहुंची पुलिस और दमकल विभाग के कर्मचारियों ने एक घंटे की मशक्कत के बाद बच्चे को बाहर निकाला और गंभीर अवस्था में बच्चे को जेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि बच्चे को मल्टीपल फैक्चर है और उसके सिर में गंभीर चोट लगी है. 

ये भी पढ़ें: गाजियाबाद: खेलते हुए बालकनी से गिरा पांच साल का बच्चा, हुई मौत

हादसे के बाद से गुस्साएं लोग जेपी ग्रुप के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने पुलिस थाने पहुंचे, लेकिन पुलिस ने एफआईआर दर्ज करने से मना कर दिया, जिसके बाद सोसायटी के लोगों ने कोतवाली में जमकर हंगामा किया. लोगों के हंगामे को देख एक्सप्रेस कोतवाली में जेपी ग्रुप के एमडी मनीष गौड़ और एफएमजी अजीत शर्मा पर लापरवाही का की रिपोर्ट दर्ज कराई. 

स्थानीय निवासियों ने बताया कि बेसमेंट और पार्किंग में किसी प्रकार का हादसा न हो जाए. इसके लिए जो सीमेंट की जाली लगाई गई है, वो इतनी कमजोर थी कि वो टूट गई और ये हादसा हुआ. लोगों का कहना है कि हादसे का शिकार हुआ मासूम दूसरे बच्चों के साथ पार्क में खेल रहा था, उसी समय बॉल पार्क के किनारे बनी जाली के पास चली गई. आरव उसे लेने पहुंचा तो जर्जर जाली टूट गई और वो करीब 20-25 फुट नीचे आ गिरा. 

ये भी पढ़ें:  खेलते हुए ईंट भट्टे में गिरा 7 साल का बच्चा, हुई मौत

स्थानीय लोगों का कहना है कि जर्जर हो रही जाली कि शिकायत कई बार की गई. लेकिन किसी के कानों में जूं नबीं रेंगी. गुस्साएं लोगों का कहना है कि सोसाइटी मेंटेनेस और सिक्योरिटी के नाम पर मोटी रकम ली जाती हैॉ. लेकिन कुछ नहीं किया जाता है. हादसे के बाद से लोग डरे हुए हैं. वहीं, कोतवाली प्रभारी हंसराज भदौरिया का कहना है कि सोसायटी के लोगों ने जेपी ग्रुप के एमडी मनीष गौड़ के साथ अधिकारी अजित शर्मा के खिलाफ तहरीर दी है. दोनों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कर आरोपों को जांच की जा रही है.