जुलाई 2021 तक बनकर तैयार होंगे राम मंदिर के 1200 खंभे, 23 नवंबर से शुरू होगा निर्माण

पांच कंपनियां मिलकर राम मंदिर का निर्माण करेंगी. इन कंपनियों को भवन निर्माण क्षेत्र में कार्य करने का अच्छा अनुभव है. लार्सन एंड टूब्रो के साथ टाटा कंसल्टिंग इंजीनियर्स लिमिटेड राम मंदिर निर्माण कार्य में सहयोग करेगी. 

जुलाई 2021 तक बनकर तैयार होंगे राम मंदिर के 1200 खंभे, 23 नवंबर से शुरू होगा निर्माण
सांकेतिक तस्वीर.

अयोध्या: अयोध्या में दीपावली सकुशल संपन्न होने के बाद अब राम मंदिर निर्माण कार्य में तेजी आने जा रही है. सूत्रों की माने तो 23 नवंबर से राम मंदिर के 1200 खंभों के निर्माण कार्य की शुरुआत हो सकती है. साथ ही मंदिर की नींव खुदाई का कार्य शुरू हो जाएगा. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य डॉ अनिल मिश्र के अनुसार टेस्ट पाइलिंग की रिपोर्ट आने का इंतजार है. आईआईटी चेन्नई टेस्ट पाइलिंग की रिपोर्ट श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट और राम मंदिर निर्माण समिति को जल्द ही सौंप देगी. उसके बाद राम मंदिर निर्माण के लिए मजबूत नींव बनाने का कार्य प्रारंभ हो जाएगा. 

शहीद पिता के अंतिम संस्कार में आंसू रोककर चिल्ला पड़ी बेटी 'वंदे मातरम'

पांच कंपनियां कर रहीं हैं राम मंदिर निर्माण में सहयोग
पांच कंपनियां मिलकर राम मंदिर का निर्माण करेंगी. इन कंपनियों को भवन निर्माण क्षेत्र में कार्य करने का अच्छा अनुभव है. लार्सन एंड टूब्रो के साथ टाटा कंसल्टिंग इंजीनियर्स लिमिटेड राम मंदिर निर्माण कार्य में सहयोग करेगी. इसके अलावा आईआईटी चेन्नई और आईआईटी रुड़की के इंजीनियर्स भी राम मंदिर निर्माण कार्य में सहयोग करेंगे. ये दोनों आईआईटी संस्थान तय करेंगे कि राम मंदिर निर्माण के लिए किस तरह के मैटेरियल का प्रयोग ठीक रहेगा. इसके अलावा पांचवी कंपनी है सीबी सोमपुरा.

सेना में भर्ती की तैयारी कर रहे हैं, तो ये खबर एक बार जरूर पढ़ लें

 

जुलाई 2021 तक पूरा हो जाएगा 1200 खंभों का निर्माण
सीबी सोमपुरा ने ही राम मंदिर का मॉडल तैयार किया है. सीबी सोमपुरा की देखरेख में ही राम मंदिर में इस्तेमाल किए जाने वाले पत्थरों की तराशी का कार्य किया जाएगा. साथ ही मंदिर का आर्किटेक्ट भी सीबी सोमपुरा की देखरेख में ही बनेगा. राम मंदिर निर्माण समिति ने कार्य शुरू होने के 39 महीने में यानी कि 2024 से पहले राम मंदिर निर्माण कार्य पूरा करने का लक्ष्य तय किया है. जुलाई 2021 तक राम मंदिर के 1200 खंभे जो नींव के रूप में रहेंगे, उनका निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा. राम मंदिर के नींव का कार्य पूरा होते ही पत्थरों के कार्य प्रारंभ होंगे.

WATCH LIVE TV