प.बंगाल: नहीं मिली इजाजत तो CM योगी ने टेलीफोन पर किया जनसभा को संबोधित

यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने ममता सरकार और तृणमूल कांग्रेस पर गुंडागर्दी का आरोप लगाया.

प.बंगाल: नहीं मिली इजाजत तो CM योगी ने टेलीफोन पर किया जनसभा को संबोधित
सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने रविवार को फोन पर संबोधित की रैली. फोटो ANI

बालुरघाट (पश्चिम बंगाल) : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हेलीकॉप्‍टर को रविवार को पश्चिम बंगाल के दिनाजपुर में उतरने की अनुमति नहीं दी गई. इस पर सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने टेलीफोन पर भी जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान उन्‍होंने ममता सरकार और तृणमूल कांग्रेस पर गुंडागर्दी का आरोप लगाया.

उन्‍होंने कहा कि ममता बनर्जी को यह बात माननी होगी कि वह लोकतंत्र में प्रशासन का दुरुपयोग नहीं कर सकतीं, जिस तरह से ऐसा पश्चिम बंगाल में किया गया है. उन्‍होंने कहा कि जिस तरह से बंगाल प्रशासन तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की तरह कार्य कर रहा है, यह बिलकुल भी बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा.

बता दें कि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के हेलीकॉप्टर को यहां उतरने की अनुमति नहीं दिए जाने से नाराज बीजेपी कार्यकर्ताओं ने दक्षिण दिनाजपुर के जिला मजिस्ट्रेट के घर के बाहर रविवार को प्रदर्शन किया.

 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री, भाजपा के राज्य अध्यक्ष दिलीप घोष के साथ दक्षिण दिनाजपुर जिले के बालुरघाट और उत्तरी दिनाजपुर जिले के रायगंज में ‘गणतंत्र बचाओ रैली’ को संबोधित करने वाले थे. रैलियां क्रमश: दोपहर एक और तीन बजे होने वाली थी. योगी आदित्यनाथ के हेलीकॉप्टर को बालुरघाट में बैठक स्थल के पास उतरना था.

घोष ने कहा, ‘‘हमें अभी तक हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति नहीं मिली है. इसलिए हमारे पार्टी कार्यकर्ता डीएम आवास के बाहर प्रदर्शन कर हेलीकॉप्टर को उतरने की अनुमति दिए जाने की मांग कर रहे हैं.’’ बीजेपी सूत्रों के अनुसार, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के हेलीकॉप्टर को रायगंज बीएसएफ शिविर के पास उतारने का निर्णय किया गया है. वहां से वह सड़क के रास्ते बालुरघाट जाएंगे. उन्होंने कहा, ‘‘रायगंज में दूसरी रैली को संबोधित करने के लिए वह वापस आएंगे.’’