पंचायत चुनाव: मृतक बता वोटर लिस्ट से काट दिए नाम, 'साहब मैं जिंदा हूं' की तख्ती लटका विरोध कर रहे ग्रामीण

आजमगढ़ जिले के फूलपुर तहसील क्षेत्र के पूरारामजी गांव का है. यहां के ग्रामीण हाथों में 'साहब मैं जीवित हूं, सरकार मैं जीवित हूं' लिखी तख्तियां लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं.  ग्रामीणों का आरोप है कि ये सब खेल सिर्फ आगामी पंचायत चुनाव को लेकर किया गया. इसमें निवर्तमान ग्राम प्रधान और बीएलओ शामिल हैं. 

पंचायत चुनाव: मृतक बता वोटर लिस्ट से काट दिए नाम, 'साहब मैं जिंदा हूं' की तख्ती लटका विरोध कर रहे ग्रामीण
वोटर लिस्ट से नाम कटने पर प्रदर्शन कर रहीं महिलाएं

आजमगढ़: यूपी में पंचायत चुनाव की तैयारियां तेज हैं. राज्य निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूची तैयार कर अंतिम आंकड़े जारी कर दिए हैं.  वहीं, आजमगढ़ जिले से वोटर लिस्ट में गड़बड़ी का मामला सामने आया है. दरअसल जिले में एक गांव के 409 लोगों को मृतक व विवाहिता दिखाकर वोटर लिस्ट से नाम कटवाने का आरोप निवर्तमान प्रधान और बीएलओ पर लगा है.

'साहब मैं जीवित हूं'  लिखी तख्तियां लेकर किया प्रदर्शन
दरअसल, पूरा मामला आजमगढ़ जिले के फूलपुर तहसील क्षेत्र के पूरारामजी गांव का है. यहां के ग्रामीण हाथों में 'साहब मैं जीवित हूं, सरकार मैं जीवित हूं' लिखी तख्तियां लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं.  ग्रामीणों का आरोप है कि ये सब खेल सिर्फ आगामी पंचायत चुनाव को लेकर किया गया है. इसमें निवर्तमान ग्राम प्रधान और बीएलओ शामिल हैं. वहीं, प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने मांग की है कि जितने भी नाम वोटर लिस्ट से काटे गये हैं, सभी को फिर से वोटर लिस्ट में जोड़ा जाए और दोषियों के  खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए.

एसडीएम ने दिए जांच के आदेश
मामला तूल पकड़ता देख गांव के बीएलओ रामबदन बिंद ने ग्राम प्रधान के खिलाफ शिकायती प्रार्थना पत्र एसडीएम फूलपुर को सौंपा है. इसमें आरोप लगाया कि गांव के प्रधान द्वारा डरा धमकाकर वोटर लिस्ट से 409 लोगों का नाम कटवाया गया, जिसकी जांच कर कार्रवाई की जाए. एसडीएम फूलपुर रावेन्द्र सिंह ने बताया कि जांच की जा रही है, जो भी तथ्य सामने निकलकर आयेगा उसी के आधार पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

WATCH LIVE TV