VIDEO: भारी बारिश से उत्‍तराखंड में नदियां उफान पर, कैम्पटी फॉल में आया 'जलसैलाब'

मसूरी के कैंप्‍टी फॉल में भारी बारिश के बाद पानी का बहाव भयावह हुआ.

VIDEO: भारी बारिश से उत्‍तराखंड में नदियां उफान पर, कैम्पटी फॉल में आया 'जलसैलाब'
मसूरी के कैंप्‍टी फॉल में पानी का बहाव हुआ बेहद तेज. (फोटो ANI)

देहरादून : देश के अलग-अलग हिस्‍सों में हो रही तेज बारिश से जनजीवन बेहाल हो रहा है. पहाड़ों से लेकर मैदान तक बारिश से मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है. उत्‍तराखंड के मसूरी में स्थित कैंप्‍टी फॉल के हालात भी चिंताजनक है. वहां भारी बारिश के कारण पानी का बहाव बेहद तेज हो गया है. इसके चलते आसपास की इमारतें और दुकानें पानी में डूब गई हैं. वहां पहुंचने वाले पर्यटकों के लिए भी परेशानियां हो रही हैं. पानी के बहाव की रफ्तार बेहद तेज है. इसे देखते हुए कैंप्‍टी फॉल के आसपास किसी के भी जाने पर रोक लगा दी गई है.

 

वहीं अगर उत्‍तराखंड की बात करें तो वहां के कई इलाकों में लगातार बारिश हो रही है. यमुनोत्री राष्‍ट्रीय राजमार्ग पिछले छह दिनों से बंद है. मार्ग में दो दर्जन से भी ज्यादा वाहन फंसे हैं. ओजरी डाबर क्षेत्र में लगातार पहाड़ों में भूस्खलन हो रहा है. भारी बारिश से नदियों का जलस्‍तर भी बढ़ा हुआ है.

यहां भागीरथी नदी खतरे के निशान से महज तीन मीटर नीचे बहर रही है. उसका जलस्‍तर 1120.98 मीटर पर है. वहीं टोंस नदी खतरे के निशान पर बह रही है. उसका जलस्‍तर 1151.15 मीटर है. उत्‍तराखंड में यमुना नदी भी खतरे के निशान से महज तीन मीटर नीचे है. यमुना का जलस्‍तर 1058.550 मीटर पर है. 

वहीं गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात सुचारू है. यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग में डावरकोट के पास भूस्खलन होने से मार्ग बाधित है. अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि उक्त स्थान पर वर्षा नहीं हो रही एवं लगातार हल्के पत्थर गिरने के कारण मार्ग सुचारू करने दिक्‍कत आ रही है. यमुनोत्री फूलचट्टी से जानकीचट्टी मोटर मार्ग स्थान फूलचट्टी के पास लगभग 30 मीटर भाग क्षतिग्रस्त हुआ है. विकासनगर-बड़कोट राष्ट्रीय राजमार्ग यातायत के लिए सुचारू है. चिन्यालीसौड़-सुवाखोली-मसूरी मोटर मार्ग पर भी यातायात चालू है.