ज्येष्ठ पूर्णिमाः सुखी दांपत्य, ग्रह दोष बाधा दूर करने के लिए आज कीजिए ये सरल उपाय

आज की रात यदि कोई किसी कुएं में एक चम्‍मच से दूध डालता है तो उसका भाग्‍य चमक जाता है. साथ ही यदि उसे किसी भी जरूरी कार्य में कोई बाधा आ रही होती है तो वो भी तुरंत दूर हो जाती है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jun 24, 2021, 09:30 AM IST
  • आज वैवाहिक जीवन में खुशियां लाने के लिए चंद्रमा को अर्घ्य दें.
  • धन के लिए गंगा जल में दूध-बताशा डालकर बरगद की पूजा करें
ज्येष्ठ पूर्णिमाः सुखी दांपत्य, ग्रह दोष बाधा दूर करने के लिए आज कीजिए ये सरल उपाय

नई दिल्लीः सभी पूर्णिमाओं में ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा सबसे अधिक फलदायी है. ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन स्नान, ध्यान और पुण्य कर्म करने का विशेष महत्व है. धार्मिक कार्यों के अलावा यह पूर्णिमा इसलिए भी बहुत खास है क्योंकि इस दिन विशेष अनुष्ठान किए जाने से उनका लाभ कई गुना करके मिलता है.

किए जा सकते हैं कई उपाय
इसके साथ ही यह दिन उन लोगों के लिये भी बेहद महत्वपूर्ण होता है, जिन युवक और युवतियों का विवाह होते-होते रुक जाता है या फिर उसमें किसी प्रकार की कोई बाधा आ रही होती है. ऐसे लोग यदि आज के दिन श्वेत वस्त्र धारण करके शिवाभिषेक करें और भगवान शिव की पूजा करें तो उनके विवाह में आने वाली हर समस्या दूर हो जाती है.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन कोई भी कुछ खास उपाय करके इस शुभ तिथि से शुभ लाभ उठा सकता है. 

रुका धन प्राप्त करने के उपाय
इस विशेष दिन पीपल के पेड़ पर भगवान विष्णु संग माँ लक्ष्मी वास करती हैं. इसलिए यदि कोई व्यक्ति एक लोटे में पानी भर कर उसमें कच्चा दूध और बताशा डालकर पीपल के पेड़ को अर्पित करता है तो इससे उस व्यक्ति को रुका हुआ धन प्राप्‍त होगा और उसे बिज़नेस में भी लाभ मिलेगा.

सुखी दांपत्य के उपाय
इस दिन दंपती को चंद्र देव को दूध से अर्ध्य देना चाहिए. इससे उनके जीवन में आ रही हर छोटी-बड़ी समस्या दूर हो जाती है. यह काम पति या पत्‍नी किसी के भी द्वारा किया जा सकता है.

जीवन में आ रही बाधा के उपाय
आज की रात यदि कोई किसी कुएं में एक चम्‍मच से दूध डालता है तो उसका भाग्‍य चमक जाता है. साथ ही यदि उसे किसी भी जरूरी कार्य में कोई बाधा आ रही होती है तो वो भी तुरंत दूर हो जाती है.

ग्रह दोष दूर करने के उपाय
यदि किसी जातक की जन्म कुंडली में कोई ग्रह दोष है तो उसे दूर करने के लिए आज, पीपल और नीम की त्रिवेणी के नीचे विष्णु सहस्त्रनाम या शिवाष्टक का पाठ करना सबसे बेहतर होगा.

आर्थिक स्थिति के लिए
ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन माँ लक्ष्‍मी की तस्वीर पर 11 कौड़ियां चढ़ा कर उस पर हल्‍दी से तिलक लगाना चाहिए. इसके पश्चात अगली सुबह इन्‍हें किसी लाल कपड़े में बांध कर अपनी तिजोरी में रख दें. ऐसा करने से आपकी आर्थिक स्थिति बेहतर होती है.

यह भी पढ़िएः Daily Panchang 24th June 2021: आज ज्येष्ठ पूर्णिमा, सत्यव्रत और संत कबीर जयंती

ज्येष्ठ पूर्णिमा के सरल उपाय
स्नान, व्रत और दान-पुण्य का विशेष महत्व होता है. पवित्र नदी में स्नान करने से पुण्य मिलता है

भगवान विष्णु और रात में चंद्रमा की पूजा करें. व्रती महिलाओं को बरगद और सावित्री की पूजा करनी चाहिए

वैवाहिक जीवन में खुशियां लाने के लिए चंद्रमा को अर्घ्य दें. व्रत रखने वालों को रात को चंद्रमा को अर्घ्य  और मां लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए. 

धन के लिए गंगा जल में दूध बताशा डालकर बरगद की पूजा करें. 

कुंडली दोष दूर करने के लिए कनेर, नीम की पूजा करें, सूर्य को अर्घ्य दें. शिवाष्टक का पाठ करने से सारे कष्ट खत्म होते हैं.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़