Farmers Protest में चक्का जाम, दिल्ली से बाहर जाना मुश्किल, बंद हो सकती है मेट्रो!

Farmers Protest के मद्देनजर शनिवार को किसानों ने चक्का जाम का ऐलान किया है. 26 जनवरी की घटना के बाद से पुलिस अलर्ट मोड में है. चक्का जाम के कारण आम नागरिक को भी बहुत सी परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Feb 6, 2021, 08:47 AM IST
  • चक्का जाम दोपहर 12 बजे शुरू होकर दोपहर बाद 3 बजे खत्म होगा
  • एकता दिखाने के लिए लगातार एक मिनट तक गाड़ियों के हॉर्न बजाएंगे
Farmers Protest में चक्का जाम, दिल्ली से बाहर जाना मुश्किल, बंद हो सकती है मेट्रो!

नई दिल्लीः Farmers Protest जारी है और अब किसान शनिवार को विरोध में चक्का जाम करने जा रहे हैं. हालांकि किसानों के इस फैसले के बाद से ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है. खासकर आम नागरिक 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के दिन हुई हिंसा और इसके बाद पनपे तनाव जैसी स्थिति के कारण डरा हुआ है.

बीच-बीच में राकेश टिकैत के अलग-अलग बयान आने से लोगों में डर की स्थिति में इजाफा हो जाता है. हालांकि कहा जा रहा है कि दिल्ली- उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश को चक्का जाम से मुक्त रखा जाएगा. लेकिन एक सवाल है कि गाजीपुर बॉर्डर ही किसान आंदोलन का केंद्र बना हुआ है. ऐसे में उत्तर प्रदेश और दिल्ली चक्का जाम से कैसे अलग रह सकते हैं? 

किसानों के चक्का जाम से आम नागरिक को क्या-क्या परेशानी होने वाली है. डालते हैं एक नजर- 

बंद रह सकते हैं दिल्ली के 12 मेट्रो स्टेशन
Farmers Protest के मद्देनजर हो रहे चक्का जाम के ऐलान के बाद राजधानी दिल्ली में अलर्ट है. शुक्रवार को नई दिल्ली DCP ने DMRC को पत्र लिखकर किसी भी स्थिति के लिए तैयार रहने को कहा है. पत्र में कहा गया है कि लॉ एंड ऑर्डर (Law and Order) की स्थितियों को देखते हुए और भीड़ को नियंत्रित करने के लिए किसी भी वक्त 12 मेट्रो स्टेशन को शॉर्ट नोटिस पर बंद करने के लिए कहा जा सकता है.

दिल्ली पुलिस ने राजीव चौक, पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय, उधोग भवन, लोक कल्याण मार्ग, जनपथ, मंडी हॉउस, आरके आश्रम, सुप्रीम कोर्ट, खान मार्किट और शिवाजी स्टेडियम (एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन) के संबंध में ये लेटर जारी किया है. चक्का जाम के दौरान हिंसा भड़कने की आशंका के चलते दिल्ली पुलिस डीसीपी ने ये फैसला किया है. ऐसे में अगर आप मेट्रो से कहीं आने-जाने वाले हैं तो लगातार अपडेट होते रहें. 

दिल्ली से बाहर जाना होगा मुश्किल
शनिवार-रविवार साप्ताहिक होने के कारण दिल्ली से बाहर जाने वालों कि अच्छी-खासी तादाद होती है. इसके अलावा Valentine Week भी शुरू हो रहा है. शनिवार होने के कारण हाईवे पर अच्छी खासी वाहनों की भीड़ होती है. 26 जनवरी की हिंसा से काफी लोग आंदोलन को लेकर गुस्सा भी हैं.

ऐसे में पुलिस बेहद सतर्कता बरत रही है. दिल्ली पुलिस PRO के मुताबिक, दिल्ली की सभी बॉर्डर पर सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की है. ऐसे में ठीक रहेगा कि संभव हो तो आज का प्लान बदल लें या फिर रूट जरूर चेक कर लें. ताकि दिल्ली से बाहर जाने में परेशानी न हो. 

देशभर में चक्का जाम, रूट देखकर ही निकलें
किसानों ने दिल्ली-UP, उत्तराखंड में चक्का जाम न करने का ऐलान किया है, लेकिन अन्य राज्यों के लोग इससे प्रभावित होंगे ही. ऐसे में हर राज्य के लोगों को अपने-अपने शहर के अनुसार जारी की ट्रैफिक एडवाइजरी को देख लेना ही ठीक होगा. हाईवे से होकर कहीं जाने का प्लान है तो दोपहर 12 से 3 बजे तक न जाएं. वैकल्पिक रूट जरूर देख लें, नहीं तो परेशानी हो सकती है. लंबे जाम में फंसे रहना पड़ सकता है. 

1 मिनट तक बजाएंगे हॉर्न
किसानों का चक्का जाम दोपहर बाद 3 बजे खत्म होगा. इस दौरान किसान अपनी एकता दिखाने के लिए लगातार एक मिनट तक गाड़ियों के हॉर्न बजाएंगे. इस तरह किसान तो एकजुटता दिखा लेंगे, लेकिन एक मिनट तक इतना लंबा शोर लोगों के लिए परेशानी बन सकता है.

खासकर आस-पास रहने वाले बुजुर्गों और बीमारों के लिए यह कष्टकारक स्थिति होगी. दोपहर बाद 3 बजे आम आदमी को इस तरह परेशान होना पड़ सकता है. 

यह भी पढ़िएः किसान आंदोलन: क्या ग्रेटा-रिहाना ने पैसे लेकर किए ट्वीट?

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़