जेल से बाहर आएंगे लालू यादव? दुमका कोषागार केस में जमानत

चारा घोटाले में लालू यादव को बड़ी राहत मिली है. लालू जेल से बाहर आ सकते हैं.  उन्हें दुमका कोषागार मामले में जमानत मिली. फिलहाल एम्स में उनका इलाज चल रहा है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 17, 2021, 01:47 PM IST
  • झारखंड हाईकोर्ट ने दी लालू प्रसाद को जमानत
  • दुमका कोषागार मामले में लालू को मिली बेल
जेल से बाहर आएंगे लालू यादव? दुमका कोषागार केस में जमानत

नई दिल्ली: RC 38A/96 दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में आज झारखंड हाईकोर्ट ने लालू प्रसाद की नियमित जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए जमानत स्वीकार करते हुए, जमानत प्रदान कर दी. 1-1 लाख का बेल बांड और 5-5 लाख निजी मुचलकों पर रिहा करने का आदेश दिया गया.

AIIMS में भर्ती हैं लालू यादव

मामले की सुनवाई जस्टिस अपरेश कुमार की अदालत में हुई. गौरतलब है कि  इस मामले में लालू प्रसाद को CBI कोर्ट ने दो अलग-अलग धाराओं में 7-7 साल की सजा सुनाई थी. सजा की आधी ‌‌अवधि काट लेने के आधार पर लालू प्रसाद ने जमानत देने का आग्रह हाईकोर्ट से किया था. आपको बता दें कि वर्तमान में राजद सुप्रीमो इलाज को लेकर दिल्ली एम्स में भर्ती हैं.

4 में से 3 मामलों में पहले ही मिल चुकी है जमानत

चारा घोटाले (Fodder Scam) के 5 मामले लालू प्रसाद के खिलाफ चल रहे हैं. 4 मामलों में उन्हें सजा मिली है. 3 मामलों में लालू प्रसाद को पहले ही जमानत मिल गई है. एक मामले में अभी सीबीआई कोर्ट में सुनवाई जारी है. लालू प्रसाद की ओर से याचिका में कहा गया था कि जेल में वो 42 महीने 28 दिनों की हिरासत की अवधि पूरी कर ली है.

25 साल से चल रहा चारा घोटाला मामला

लालू प्रसाद को चारा घोटाले के नियमित मामले RC 20A/96 में 5 वर्ष की सजा सुनाई गई थी. 25 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया गया था.. देवघर कोषागार से जुड़े RC 64A/96 में साढ़े 3 वर्ष की सजा सुनाई गई, जबकि 5 लाख रुपए का जुर्माना लगा था. चाईबासा ट्रेजरी से अवैध निकासी मामले RC 68A/96 में 5 साल की सजा सुनाई गई थी. 10 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया गया था. दुमका कोषागार से जुड़े मामले में 7-7 वर्ष की सजा सुनाई गई. डोरंडा ट्रेजरी RC 47A/96 से अवैध निकासी मामले की सुनवाई चल रही है.

लालू कब गए जेल

23 दिसंबर 2017 को देवघर मामले में दोषी करार, लालू गए जेल
4 जनवरी 2018 को देवघर में सजा
24 मार्च 2018 चाईबासा मामले में सजा
19 मार्च 2018 को दुमका मामले में दोषी करार
24 मार्च 2018 को दुमका मामले में सजा
11 मई 2018 को तीनों मामलों में औपबंधिक जमानत
30 अगस्त 2018 को किया सरेंडर, तब लालू जेल में हैं।

चारा घोटाला उस समय सुर्खियों में आया जब पश्चिमी सिंहभूम जिले (चाईबासा) के तत्कालीन उपायुक्त अमित खरे ने 27 जनवरी 1996 को उजागर किया. बिहार पुलिस ने इस पर केस दर्ज किया और जांच आगे बढ़ाई तो इसके तार लालू प्रसाद यादव और दूसरे लोगों से जुड़े. बाद में सीबीआई ने इस केस की जांच शुरू की, जो पिछले 25 वर्षों से चल रहा है.

इसे भी पढ़ें- लाल किला हिंसा: दीप सिद्धू को 30 हजार रुपये के निजी मुचलके पर मिली जमानत

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़