क्या रोजर बिन्नी को छोड़नी पड़ेगी कुर्सी! बहू की वजह से बड़ी मुश्किल में फंसे BCCI के बॉस

शिकायतकर्ता संजीव गुप्ता ने आरोप लगाया है कि बिन्नी का हितों का टकराव है क्योंकि उनकी बहू स्टार स्पोर्ट्स के लिए काम करती है जिसे भारतीय क्रिकेट के घरेलू सत्र के मीडिया अधिकार हासिल हैं. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Nov 29, 2022, 08:11 PM IST
  • रोजर बिन्नी पर लगे गंभीर आरोप
  • गांगुली की जगह अध्यक्ष बने रोजर बिन्नी
क्या रोजर बिन्नी को छोड़नी पड़ेगी कुर्सी! बहू की वजह से बड़ी मुश्किल में फंसे BCCI के बॉस

नई दिल्ली: टीम इंडिया को मजबूत करने और उसका भविष्य उज्ज्वल करने के लिए BCCI लगातार बड़े बड़े कदम उठा रहा है. इस बीच सौरव गांगुली की जगह BCCI के नए बॉस बने 1983 के वर्ल्ड चैंपियन रोजर बिन्नी एक नई मुश्किल में फंसते नजर आ रहे हैं.  

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के आचरण अधिकारी विनीत सरन ने बोर्ड के अध्यक्ष रोजर बिन्नी को हितों के टकराव का नोटिस भेजा है. पीटीआई को पता चला है कि सरन ने बिन्नी को उनके खिलाफ हितों के टकराव के आरोपों के मामले में 20 दिसंबर तक लिखित जवाब देने को कहा है. 

रोजर बिन्नी पर लगे गंभीर आरोप

शिकायतकर्ता संजीव गुप्ता ने आरोप लगाया है कि बिन्नी का हितों का टकराव है क्योंकि उनकी बहू स्टार स्पोर्ट्स के लिए काम करती है जिसे भारतीय क्रिकेट के घरेलू सत्र के मीडिया अधिकार हासिल हैं. सरन ने 21 नवंबर को जारी नोटिस में कहा, ‘‘आपको सूचित किया जाता है कि बीसीसीआई के आचरण अधिकारी को बीसीसीआई के नियम 38 (1) (एक) और नियम 38 (2) के उल्लंघन को लेकर शिकायत मिली है जो आपके हितों के टकराव से जुड़े हैं. ’’ 

गांगुली की जगह अध्यक्ष बने रोजर बिन्नी

इसके अनुसार, ‘‘आपको निर्देश दिया जाता है कि शिकायत पर अपनी लिखित प्रतिक्रिया 20 दिसंबर 2022 को या इससे पहले दें. इस प्रतिक्रिया के समर्थन में हलफनामा भी दायर किया जाना चाहिए.’’ विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे बिन्नी अक्टूबर में बीसीसीआई के 36वें अध्यक्ष बने. उन्होंने पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली की जगह ली. बिन्नी भारत के लिए 27 टेस्ट और 72 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेले.

ये भी पढ़ें- '49 फीसदी क्रिकेटर देश के लिए नहीं पैसों के लिए खेलते हैं', रिपोर्ट में सनसनीखेज खुलासा

 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़