• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 6,28,747 और अबतक कुल केस- 21,53,010: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 14,80,884 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 43,379 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 68.32% से बेहतर होकर 68.78% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 53,878 मरीज ठीक हुए
  • सरकार ने 500 करोड़ का आवंटन आत्म निर्भर अभियान के तहत मधुमक्खी पालन बढ़ाने के लिए किया
  • शहद का उत्पादन 242% बढ़ा और निर्यात 265% बढ़ा
  • 115 जिलों में एमएसएमई पदचिह्न बढ़ाने के लिए पहल
  • ₹50 करोड़ तक का सेक्टर निवेश और MSME की नई परिभाषा में 250 करोड़ तक का कारोबार
  • ₹50 करोड़ तक का सेक्टर निवेश और MSME की नई परिभाषा में 250 करोड़ तक का कारोबार
  • यह डिजिटल और आउटडोर इंस्टॉलेशन से सुसज्जित है, जो स्वछता पर जानकारी और शिक्षा प्रदान करता है
  • अगले पांच वर्षों में पीएलआई योजना के तहत ₹11.5 लाख करोड़ रुपये के मोबाइल फोन और इसके पुर्जे तैयार किए जाएंगे

फिर से पेंगोंग क्षेत्र में चीन ने बढ़ाई सैनिकों की संख्या

क्या चीन सचमुच यद्ध ही चाहता है? क्या युद्ध से कम में मानेगा नहीं चीन? पेंगोंग में उसने न केवल अतिरिक्त सेना तैनात कर दी है बल्कि अलग से बोट भी वहां नियुक्त की है..  

फिर से पेंगोंग क्षेत्र में चीन ने बढ़ाई सैनिकों की संख्या

नई दिल्ली.   एक तरफ तो चीन भारत के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा पर शांति की वार्ता में व्यस्त है दूसरी तरफ वह पेंगोंग झील क्षेत्र में सेना पीछे लेने के स्थान पर सेना बढ़ा रहा है. अब ऐसे में एलएसी पर डिसएंगेजमेंट की वार्ता किस लिए हो रही है - यह अपनेआप में बड़ा प्रश्न है. 

 

ये है चीन की नई चाल 

पिछली बार 14 जुलाई की बातचीत के बाद चीन ने वादा किया था कि वह मई वाली यथास्थिति बनाने के लिए कदम उठाएगा. किन्तु उसकी जगह चीन ने अतिरिक्त बोट और सेना की टुकड़ी को पैंगॉन्ग में तैनात कर दिया है. ये खुलासा हाल ही में प्राप्त सैटेलाइट छवियों से हुआ है कि पेंगोंग क्षेत्र चीनी सैनिकों से भरा हुआ है.

फिंगर 5 से 8 तक फ़ैल गए हैं चीनी 

हाल ही में लिए गए सैटेलाइट इमेजेस ने ये बड़ा खुलासा किया है. इन इमेजेस में दिखा है कि पेंगोंग झील क्षेत्र में चीन ने सैनिकों की अतिरिक्त टुकड़ियां तैनात की है. यह विवादित क्षेत्र है यहां पर शान्तिवार्ता में किये वादे का उल्लंघन करके फिंगर 5 से फिंगर 8 तक चीनी सैनिक फैले हुए पाए गए हैं. यहां तक कि पेंगोंग झील में भी बोट तैनात की गई है.

अगली शान्ति-वार्ता में क्या बात होगी

लगातार अपने वादे तोड़ रहे चीन के साथ अगले दौर की कूटनीतिक शांतिवार्ता में क्या बात हो सकेगी जब चीन लगातार धोखेबाजी पर उतारू है. पैंगॉन्ग झील में चीन अपने नए कैंप बना रहा है और उसने विवादित फिंगर-5 से 8 तक यहां अपनी ताकत बढ़ाई है. अतिरिक्त सेना की टुकड़ियों की तैनाती के साथ ही पैंगॉन्ग झील में और भी बोट उतारी जा रही हैं. पर सैटेलाइट छवियों ने चीन की चाल का पर्दाफ़ाश कर दिया है.  

 

ये भी पढ़ें. गूगल और फेसबुक खबरों के लिए भुगतान करेंगे ऑस्ट्रेलिया में