Jammu & Kashmir: आतंकियों की तारीफ करने पर महिला SPO सस्पेंड, FIR के बाद उठाया गया ये कदम

जम्मू व कश्मीर पुलिस (Jammu and kashmir Police) का कहना है कि महिला ने आतंकियों के खिलाफ सर्च अभियान का विरोध किया और हिंसक और भड़काऊ बयान दिया, जिसमें आतंकवादियों के हिंसक कार्यो का महिमामंडन किया गया.

Jammu & Kashmir: आतंकियों की तारीफ करने पर महिला SPO सस्पेंड, FIR के बाद उठाया गया ये कदम

श्रीनगर: जम्मू व कश्मीर पुलिस (Jammu and kashmir Police) ने आतंकवाद का महिमामंडन करने के लिए एक महिला एसपीओ (एसपीओ) को गिरफ्तार कर लिया है और सेवा से बर्खास्त कर दिया है. अधिकारियों ने शुक्रवार यह जानकारी दी.

पुलिस ने कहा कि एसपीओ को दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में पुलिस ने गिरफ्तार किया था. उन्होंने कहा कि आतंकवाद का महिमामंडित करने और सरकारी अधिकारियों को उनके कर्तव्य के निर्वहन में बाधा डालने के लिए एसपीओ को सेवा से हटा दिया गया है.

ये भी पढ़ें:  Ramzan 2021: भारत का वह इलाका, जहां तोप के घन-गरज से होता है इफ्तार व सेहरी का आगाज़

पुलिस ने कहा, 'अप्रैल 2021 को, ग्राम फ्रिसल के करेवा मोहल्ला में आतंकवादियों की मौजूदगी के संबंध में एक विशिष्ट इनपुट पर, सुरक्षा बलों ने क्षेत्र में एक तलाशी अभियान शुरू किया था. तलाशी अभियान के दौरान, तलाश दल को एक महिला द्वारा बाधित किया गया था. पुलिस के अनुसार महिला की पहचान गुलाम नबी राह की बेटी सायमा अख्तर के रूप में हुई है.

पुलिस  का कहना है कि महिला ने सर्च पार्टी का विरोध किया और हिंसक और भड़काऊ बयान दिया, जिसमें आतंकवादियों के हिंसक कार्यो का महिमामंडन किया गया. उसने अपने निजी फोन के माध्यम से एक वीडियो बनाया और उसे सर्च ऑपरेशन में बाधा डालने के प्रयास में अपलोड कर दिया.

ये भी पढ़ें:  रमज़ान के पहले जुमे पर दारुल उलूम का फतवा: नमाज़ के लिए जारी किए ये निर्देश

पुलिस ने कहा कि मामले का संज्ञान लेने के बाद, एसपीओ को गिरफ्तार कर लिया गया और बाद में सेवा से हटा दिया गया. पुलिस ने मामला दर्ज करके शुरू कर दी है.

(इनपुट- आईएएनएस)

Zee Salam Live TV: