PM मोदी ने पेश की प्रणब मुखर्जी को खिराजे अकीदत, आज ही होंगी आखिरी रसूमात

आपको बता दें कि सुबह सवा 9 बजे से मुअज्ज़िज़ हस्तियों के ज़रिए प्रणब मुखर्जी को खिराजे अकीदत पेश की जा रही है जबकि आम जनता 11-12 बजे के बीच अंतिम दर्शन कर सकेगी.

PM मोदी ने पेश की प्रणब मुखर्जी को खिराजे अकीदत, आज ही होंगी आखिरी रसूमात
फोटो बशुक्रिया ANI

नई दिल्ली: साबिक सद्रे जम्हूरिया प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) की आज आखिरी रसूमात अंजाम दी जाएंगी. इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) मुखर्जी के अंतिम दर्शन के लिए राजाजी मार्ग पर मौजूद उनकी रिहाईश पर पहुंचे. यहां उन्होंने मुखर्जी को  खिराजे अकीदत पेश की.

आपको बता दें कि सुबह सवा 9 बजे से मुअज्ज़िज़ हस्तियों के ज़रिए प्रणब मुखर्जी को खिराजे अकीदत पेश की जा रही है जबकि आम जनता 11-12 बजे के बीच अंतिम दर्शन कर सकेगी. कोरोना काल को देखते हुए सोशल जिस्टेंसिंग समेत सभी जरूरी प्रोटोकॉल का ख्‍याल रखा जा रहा है. 

बता दें कि मुल्क सद्रे जम्हूरिया प्रणब मुखर्जी का कल यानी 31 अगस्त को इंतेकाल हो गया. प्रणब मुखर्जी 84 साल के थे. उनके बेटे अभि‍जीत मुखर्जी ने ट्वीट कर उनके इंतेकाल की जानकारी दी थी. प्रणब मुखर्जी दिल्ली में सेना के अस्पताल में भर्ती थे. 

अस्पताल में उन्हें 10 अगस्त को दाखिल कराया गया था. पीर को 31 अगस्त को दिन में अचानक उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ने लगी. उन्हें लगातार वेंटिलेटर पर रखा गया था. मुल्क के सबसे आला शहरी अवार्ड भारत रत्न से सरफराज़ प्रणब मुखर्जी के इंतेकाल पर मुल्क में गम की लहर है. प्रणब मुखर्जी के इंतेकाल के बाद मरकज़ी वज़ारते दाखिला ने सात दिन के राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है. 

सद्रे जम्हूरिया रामनाथ कोविंद ने प्रणब मुखर्जी को खिराजे अकीदत देते हुए कहा कि उनका जाना एक युग का खात्मा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि प्रणब मुखर्जी का जाना मेरे लिए ज़ाती नुकसान है. वज़ीरे आज़म ने प्रणब मुखर्जी के साथ अपनी कई तस्वीरें भी ट्वीट की हैं. प्रणब दादा का जन्म 11 दिसंबर 1935 को पश्चिम बंगाल के मिरिटी गांव में हुआ था.

Zee Salaam LIVE TV