मुस्लिम अकसरियती मलेरकोटला को ज़िला बनाने पर भड़के CM योगी, बताया ग़ैर-कानूनी

मुस्लिम अकसरियती कस्बा, मलेरकोटला अब तक पंजाब के संगरूर जिले का हिस्सा था और यह संगरूर जिला हेडक्वार्टर से करीब 35 किलोमीटर की दूरी पर पड़ता था.

मुस्लिम अकसरियती मलेरकोटला को ज़िला बनाने पर भड़के CM योगी, बताया ग़ैर-कानूनी
फाइल फोटो

लखनऊ: पंजाब के वज़ीरे आला कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 14 मई को ईद के मौक़े पर मलेरकोटला शहर को नया ज़िला बनाने का ऐलान किया था. अब CM कैप्टन अमरिंदर फैसले पर यूपी के वज़ीरे आला योगी आदित्यनाथ ने सख्त एतराज़ जताया है.

उत्तर प्रदेश के वज़ीरे आला योगी आदित्यनाथ ने 15 मई को ट्वीट कर कहा, ''मत और मज़हब की बनियाद पर किसी किसी भी किस्म का भेदभाव भारत की आईन के मुख़ालिफ है. इस वक्त मलेरकोटला ज़िला (पंजाब) का बनाया जाना, कांग्रेस की तकसीम करने वाली हिकमते अमली को ज़ाहिर करता है.'

गौरतलब है कि पिछले दिन ईद उल फितर के इस त्योहार के मौके पर पंजाब के वज़ीरे आला कैप्टन अमरिंदर सिंह ने रियासत के मुस्लिम अकसरियती इलाका मलेरकोटला को 23वां ज़िला बनाने का ऐलान किया था. वज़ीरे आला कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्विटर के ज़रिए इसकी जानकारी दी थी.

ये भी पढ़ें: ईद के मौके पर CM अमरिंदर का बड़ा ऐलान, मुस्लिम अकसरियती मलेरकोटला होगा पंजाब का 23वां ज़िला

वज़ीरे आला कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था, 'ये बताते हुए खुशी हो रही है कि इस ईद उल फितर के मौके पर हमारी हुकूमत ने मलेरकोटला को रियासत में नया ज़िला बनाने का ऐलान किया है. मलेरकोटला अब रियासत का 23वां ज़िला होगा. 23वें जिले का काफी तारीखी अहमियत है. जिला इंतज़ामिया परिसर के लिए ठीक और मुनासिब जगह का पता लगान का हुक्म दिया है.'

याद रहे कि मुस्लिम अकसरियती कस्बा, मलेरकोटला अब तक पंजाब के संगरूर जिले का हिस्सा था और यह संगरूर जिला हेडक्वार्टर से करीब 35 किलोमीटर की दूरी पर पड़ता था. इलेक्शन से पहले ही कांग्रेस ने मलेरकोटला को जिला का दर्जा देने का वादा किआ था, जिसे अब पूरा किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: कानपुर: पिता ने नाबालिग बेटी और उसके प्रेमी की कुल्हाड़ी से काटकर की हत्या

Zee Salam Live TV: