'कोविंद के नाम का विरोध करने वाले दलित विरोधी'

Last Updated: Monday, June 19, 2017 - 17:55
'कोविंद के नाम का विरोध करने वाले दलित विरोधी'

नई दिल्ली: केन्द्रीय मंत्री और लोजपा अध्यक्ष रामविलास पासवान ने बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद को एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित करने का स्वागत करते हुए विपक्षी दलों से भी उनके नाम पर सर्वानुमति कायम करने का आहवान किया है.

यूपी से पहले और देश के दूसरे दलित राष्ट्रपति होंगे रामनाथ कोविंद!

पासवान ने आज भाजपा संसदीय दल की बैठक में कोविंद के नाम का ऐलान होने के बाद अपनी प्रतिक्रिया में इसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ऐतिहासिक फैसला बताया. उन्होंने कहा कि दलितों के हितों की लड़ाई सड़क से संसद और अदालतों तक लड़ने वाले कोविंद राष्ट्रपति पद के लिए सवर्था योग्य उम्मीदवार हैं.

जानें कौन हैं एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार

पासवान ने विपक्षी दलों से भी कोविंद के नाम पर सर्वानुमति कायम करने की अपील करते हुए कहा कि उनके नाम का विरोध करने वाले दल दलित विरोधी माने जाएंगे। उन्होंने कोविंद के चयन को मोदी सरकार का मास्टर स्ट्रोक बताते हुए इसे उन दलों के गाल पर करारा तमाचा बताया जो अब तक राजग सरकार को दलित विरोधी बता रहे थे.

ज़ी न्यूज़ डेस्क

First Published: Monday, June 19, 2017 - 17:55
comments powered by Disqus