photoDetails1hindi

IPS Success Story: बनना था लेखक पर कर लिया PGDBA, फिर पाई ऐसी पोस्ट, दुनिया ठोकती है सलाम!

IPS Saumya Sambasivam: जब हम किसी IAS या IPS की पावर के बारे में पढ़ते हैं या सोचते हैं तो लगता है कि काश हमारे पास भी ऐसी पावर हो. पर हमें यह भी पता होना चाहिए कि उनको ये पावर कितनी मेहनत के बाद मिलती है. आज हम आपको एक ऐसी ही महिला IPS अफसर सौम्या सांबशिवन की कहानी बताने जा रहे हैं. जिन्होंने जिनके नाम से ही अपराधी कांपते हैं. वह शिमला की पहली महिला एसपी रह चुकी हैं. 

1/5

सौम्या केरल की रहने वाली हैं. वह 2010 बैच की आईपीएस अफसर हैं. सौम्या का सपना था कि वो एक लेखक बनें पर लक को तो कुछ और मंजूर था. हालांकि उन्होंने PDGBA भी किया है. सौम्या के पिता इंजीनियर थे. सौम्या अपने पापा-मम्मी की इकलौती बेटी हैं.

2/5

सौम्या ने PDGBA से पहले बायो स्ट्रीम में ग्रेजुएशन किया था. जब उनका एमबीए पूरा हो गया तो उन्होंने बैंक में नौकरी करनी शुरू कर दी और 2 साल तक नौकरी की. नौकरी के साथ साथ ही उन्होंने यूपीएससी की तैयारी करना भी शुरू कर दिया. 

3/5

सौम्या की तैयारी सफल रही और वह 2010 बैच की हिमाचल कैडर की IPS अफसर बन गईं. आईपीएस बनने के बाद जो उन्हें पहली पोस्टिंग मिली वो हिमाचल का सिरमौर जिले में मिली.

4/5

जब वह सिरमौर की एसपी थीं तो एक प्रदर्शन में उन्होंने एक MLA को थप्पड़ मार दिया था और जेल भेज दिया था. इसके बाद सौम्या की काफी चर्चा भी हुई थी. 

5/5

सौम्या अपने पहले अटेंप्ट में यूपीएससी परीक्षा पास करने और आईपीएस बनने से पहले कई साल तक एचएसबीसी बैंक में एक इनवेस्टमेंट बैंकर के रूप में काम किया. उन्होंने देश के अलग अलग राज्यों में स्कूलों में पढ़ाई की है. उन्होंने भारथिअर विश्वविद्यालय, कोयंबटूर से वायो टेक्नोलॉजी में ग्रेजुएशन किया और आईसीएफएआई, हैदराबाद से मार्केटिंग और फाइनेंस में पीजीडीबीए किया.

 

photo-gallery