ZEE5 ने EDUAURAA के साथ किया टाई अप, स्कूली बच्चों के लिए बनाई खास सर्विस

ZEE5 ने EDUAURAA के साथ टाई अप किया है जिसके जरिए स्कूल जाने वाले बच्चों को स्कूल के बाद पढ़ाई करने का एक और विकल्प मिलेगा.

ZEE5 ने EDUAURAA के साथ किया टाई अप, स्कूली बच्चों के लिए बनाई खास सर्विस

नई दिल्ली: ZEE5 ने EDUAURAA के साथ टाई अप किया है जिसके जरिए स्कूल जाने वाले बच्चों को स्कूल के बाद पढ़ाई करने का एक और विकल्प मिलेगा. पूरे देश मे यह सर्विस लॉन्च की गई है और इसके ऐप पर बच्चों को 8 विषय पढ़ने के विकल्प मिलेंगे. 

इसमें फिजिक्स, केमिस्ट्री, बॉयोलॉजी, मैथ, जियोग्राफी, हिस्ट्री, सिविक्स और इकोनॉमिक्स विषय रहेगा. यह सर्विस 6वीं से 12वीं क्लास के बच्चों के लिए है और हिंदी और इंग्लिश माध्यम में बच्चे यहां पढ़ सकेंगे.  

9 बोर्ड्स जैसे CBSE, ICSE और राजस्थान, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश और बिहार के बोर्ड्स के साथ टाई अप भी किया गया है. ऐप में बच्चे वीडियो लेसन्स, ई बुक्स के जरिए पढ़ाई कर सकते हैं. ZEE5 का सालाना सब्सक्रिप्शन लेने पर EDUAURAA 6 महीने के लिए फ्री है. 

इस सर्विस का प्रयोग करने के लिए लिए Zee5 के सालाना पैकेज को 31 मार्च से पहले सब्सक्राइब करना होगा, इसके बाद ही 6 महीने फ्री EDUAURAA मिलेगा. इसमें टीचर्स के साथ सेशन भी हैं. 

जी इंटरटेनमेंट के एमडी और सीईओ पुनीत गोयनका ने कहा, 'यह कंपनी के लिए एक नया अध्याय है और हमारे लिए एक खास पल है. विश्व स्तर पर हमारी पहले से ही मजबूत उपस्थिति है. यह टाईअप पूरे परिवार को उद्देश्यपूर्ण कंटेंट देगा. इस नए अध्याय के साथ Zee5 बच्चों का विकास करेगा और उन पर सकारात्मक प्रभाव डालेगा.'

इस टाईअप पर एचआरडी मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, 'Zee5 और Eduauraa का यह एक अच्छा कदम है. Zee परिवार से मैं काफी समय से जुड़ा हुआ हूं. युवा देश का भविष्य है. देश के युवा के पास नजरिया है और युवा की मदद करने के लिए स्किल इंडिया, स्टैंड अप इंडिया जैसी काफी पॉलिसी हैं.'

Eduauraa की फाउंडर और सीईओ आकांक्षा चतुर्वेदी ने कहा, 'EDUAURAA और ZEE5 के जरिए स्कूल जाने वाले बच्चों को स्कूल के बाद पढ़ाई करने का एक और विकल्प दिया जा रहा है. ZEE5 के जरिए हम 75 मिलियन लोगों के पास पहुंच सकते हैं. पूरे देश मे यह सर्विस लॉन्च की गई है. ऐप पर 8 विषय दिए जा रहे हैं जिनमें फिजिक्स, केमिस्ट्री, बॉयोलॉजी, मैथ, जियोग्राफी, हिस्ट्री, सिविक्स और इकोनॉमिक्स हैं. यह सर्विस 6वीं से 12वीं क्लास के बच्चों के लिए है. इसमें हिंदी और इंग्लिश में बच्चे पढ़ सकेंगे.'

आकांक्षा ने कहा, '9 बोर्ड्स जैसे CBSE, ICSE, राजस्थान, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश और बिहार बोर्ड्स के साथ टाई अप किया है. ऐप का UI और UX काफी आसान है. ऐप में बच्चे वीडियो लेसन्स और ई बुक्स के जरिए पढ़ाई कर सकते हैं. ऐप में टेस्ट भी हैं जो इन हाउस टीचर्स ने बनाए हैं. टेस्ट में MCQ और लॉन्ग एंड शॉर्ट आंसर देने होते हैं. ZEE5 का सालाना सब्सक्रिप्शन लेने पर EDUAURAA 6 महीने के लिए फ्री है. एक्स्ट्रा चार्जेस भी हैं. एडुटेक स्केटर पिछले 2 साल में काफी तेजी से बढ़ा है. हम चाहते हैं देश के हर कोने में लोग ये सर्विस प्रयोग करें.'

ZEE5 इंडिया के सीईओ तरुन कटियाल ने कहा, 'हम ZEE5 के प्लेटफॉर्म को और बड़ा करना चाहते हैं. इस टाई अप से हम नए यूजर्स के साथ कनेक्ट कर पाएंगे. आने वाले समय में प्रतियोगी परीक्षाओं का कंटेंट भी ऐप पर डालेंगे. Zee5 में 11 मिलियन डेली एक्टिव यूजर्स हैं. इस साल 15 मिलियन डेली एक्टिव यूजर्स तक ले जाना चाहते हैं.'