तमिलनाडु में Rajinikanth के लिए लगे पोस्‍टर, लिखा- 'अभी नहीं तो कभी नहीं'
topStories1hindi743312

तमिलनाडु में Rajinikanth के लिए लगे पोस्‍टर, लिखा- 'अभी नहीं तो कभी नहीं'

तमिलनाडु में 7 से 8 महीने बाद होने जा रहे बहुप्रतीक्षित विधानसभा चुनाव (Assembly Election) को लेकर वेल्लोर जिले में पोस्टर सामने आए हैं, जिसमें अभिनेता रजनीकांत से सक्रिय राजनीति में प्रवेश करने का आग्रह किया गया है.

तमिलनाडु में Rajinikanth के लिए लगे पोस्‍टर, लिखा- 'अभी नहीं तो कभी नहीं'

चेन्नई: तमिलनाडु में 7 से 8 महीने बाद होने जा रहे बहुप्रतीक्षित विधानसभा चुनाव (Assembly Election) को लेकर वेल्लोर जिले में पोस्टर सामने आए हैं, जिसमें अभिनेता रजनीकांत से सक्रिय राजनीति में प्रवेश करने का आग्रह किया गया है. 

इन पोस्‍टरों में रजनीकांत के ही कुछ नारे लिखे हुए हैं. एक पोस्‍टर में लिखा था, 'राजनीतिक कल्‍चर और सरकार में बदलाव लाने के लिए पार्टी और सरकार अलग-अलग संस्थाएं हैं - यदि अभी नहीं तो कभी नहीं!' इन पोस्टरों में रजनी के एक फैन के नाम का जिक्र किया गया है. कहा जा रहा है कि ये पोस्‍टर उसी ने लगाए हैं. 

ये भी पढ़ें: किसानों के लिए सरकार लेकर आई मुनाफे वाली कमाई योजना, मिलेगी 80% सब्सिडी

रजनीकांत ने 12 मार्च को चेन्नई में एक प्रेस मीट को संबोधित करते हुए 'राजनीति में सफाई' को लेकर अपना दृष्टिकोण बताया था. 

उन्‍होंने कहा था, 'मैंने कभी भी तमिलनाडु का मुख्यमंत्री बनने या विधानसभा में बैठने और बोलने के बारे में नहीं सोचा है. यह मेरे खून में भी नहीं है. मैं चाहता हूं कि एक नई लहर, नई शक्ति और नया खून जाकर विधानसभा में सत्ता जमाए और रजनी इसके लिए केवल एक पुल की तरह होगा.' 

रजनीकांत ने कहा था कि उनकी संभावित पार्टी के लोगों की भूमिकाएं केवल बूथ स्तर की कमेटियों तक ही सीमित रखी जाएंगी, ताकि जीतने के बाद वे मुख्‍यधारा की पार्टियों की तरह गायब न हो सके. 

उन्होंने पार्टी को लेकर अपने विजन के बारे में कहा था पार्टी में 60-65 प्रतिशत लोग 50 साल से कम उम्र होंगे, जो कि पर्याप्त योग्यता वाले और सार्वजनिक तौर पर प्रभावशाली हों. पार्टी में 30-40 प्रतिशत लोग सेवानिवृत्त न्यायाधीश, आईएएस, आईपीएस और राजनेता शामिल होंगे. इसमें महिलाएं भी शामिल होंगी.

हालांकि मार्च में पूरे देश में लॉकडाउन लागू होने के बाद से अभिनेता ने कोई सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं किया. ना ही कोई घोषणा की ना राजनीतिक बयान दिया. अभिनेता ने राजनीति में आने को लेकर प्रतिबद्धता भी नहीं जताई है, लिहाजा उनकी पार्टी के नवंबर में लॉन्च होने को लेकर काफी चर्चा हो रही है. 

अटकलों के चलते रजनी के अधिकारिक प्रतिनिधि की ओर से बयान जारी कर मीडिया से अनुरोध किया गया है कि वह Poes garden का दौरा न करें. बता दें कि इस पॉश इलाके में अभिनेता रजनीकांत रहते हैं. .

अभिनेता के एकीकृत फैन क्‍लब रजनी मक्कल मंदराम (Unified Fan Club-Rajini Makkal Mandram) के कार्यकर्ता  ने कहा कि अभिनेता ने मार्च के बाद से उन लोगों के साथ ना तो वर्चुअल मीटिंग की है और ना ही कोई चर्चा की है. अभिनेता ने पहले कहा था कि अभिनेता की भावी पार्टी के जिला अधिकारी उनके मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार न होने के प्रस्ताव के कारण नाखुश थे.

उन्होंने मार्च में कहा था, 'हमें लोगों को यह बताने की जरूरत है कि यह रजनी के लिए नहीं है, बल्कि यह तमिलनाडु के लोगों के लिए है. मैं यहां 15-20 प्रतिशत वोट लेने के लिए नहीं हूं, यह मेरा एकमात्र मौका है. मैं 71 साल का हूं और 2026 के चुनाव तक मैं 76 साल का हो जाऊंगा. एक बार संदेश अधिक लोगों तक पहुंच जाए और आम लोग बदलाव लाना चाहें तो मैं इसमें आने के बारे में सोचूंगा.' 

 

Trending news