केरल : आदिवासी युवक की पिटाई करने वाले दो गिरफ्तार, सरकार देगी 10 लाख की मदद

केरल के पालक्काड़ में 22 फरवरी को एक आदिवासी युवक की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. इस मामले में स्थानीय पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है. 

केरल : आदिवासी युवक की पिटाई करने वाले दो गिरफ्तार, सरकार देगी 10 लाख की मदद
केरल में आदिवासी युवक की हत्या के विरोध में शनिवार को त्रिवेंद्रम में भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया. फोटो साभार: एएनआई

नई दिल्ली : केरल के पलक्कड़ में 22 फरवरी को एक आदिवासी युवक की भीड़ द्वारा पीट-पीटकर की गई हत्या के मामले में स्थानीय पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है. इसके साथ ही केरल सरकार ने आदिवासी युवक के परिवार को दस लाख की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है. उधर, मृतक युवक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि उसके सिर और पीठ पर आंतरिक चोटें आईं. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में युवक के मरने का कारण शारीरिक रूप से दी गई यातना को बताया गया है. 

इस घटना का व्‍यापक तौर पर विरोध भी देखने को मिल रहा है. इसके विरोध में शनिवार को त्रिवेंद्रम में भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध-प्रदर्शन किया. इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने मुंह पर काली पट्टी बांधकर सरकार के खिलाफ विरोध जताया.

 

 

 

युवक को पीटने से साथ सेल्फी ले रही थी भीड़
जानकारी के मुताबिक, केरल के कडूकुम्न्ना निवासी 27 वर्षीय आदिवासी युवक ए मधु को कुछ लोगों ने गुरुवार शाम को जंगल से पकड़ा था. वे उसे पीटते हुए बाहर लाए और उसे रस्सियों से बांध दिया. भीड़ ने आरोप लगाया कि, तीन दिन पहले एक शख्स के यहां से खाने का सामान चोरी हुआ था. उन्होंने ए मधु पर इस चोरी को करने का आरोप लगाया था. इसके बाद भीड़ ने रस्सियों से बंधे ए. मधु पर लात-घूंसे बरसाने के साथ ही उसे डंडों से भी बुरी तरह पीटा. इस दौरान लोग उसके साथ सेल्फी भी लेते रहे. बाद में गंभीर रूप से घायल युवक को अस्पताल ले जाया गया, लेकिन वहां पहुंचने से पहले भी युवक की मौत हो गई. घटना की सूचना मिलने पर अगली पुलिस मौके पर पहुंची. बताया जाता है कि वह 2016 से दुकानों पर से खाने के सामान की चोरियां करता आ रहा है.

पढ़ें: मध्य प्रदेश: एकतरफा प्यार में लड़की को दी बेरहम मौत

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण: शारीरिक रूप से दी गई यातना 
शुक्रवार को मामला मीडिया में आने के बाद पुलिस और प्रदेश सरकार जागी तो फौरन कार्रवाई का दबाव बढ़ाया. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, शनिवार को स्थानीय पुलिस ने आदिवासी युवक की पिटाई करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. शनिवार को आई आदिवासी युवक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर और पीठ पर गहरी अंदरूनी चोटें लगने की बात सामने आई है. साथ ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट बताया गया है कि युवक के मरने का कारण शारीरिक रूप से दी गई यातना है. एएनआई के मुताबिक, केरल सरकार ने शनिवार को मृतक युवक के परिजनों को दस लाख रुपये की सहायता दी है. 

मानसिक रूप से विक्षिप्त था युवक
पुलिस ने इस मामले में करीब 15 लोगों के खिलाफ हत्या के प्रयास के तहत केस दर्ज किया था. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामले में और धाराएं जोड़ने की बात कही गई थी. पुलिस ने बताया कि मृतक युवक मधु मानसिक रूप से विक्षिप्त था और वो ज्यादातर जंगल में ही रहता था. उसका अपने परिवार से भी कोई संपर्क नहीं था.